बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती। फाइल फोटो

कृषि मंत्री जेपी दलाल ने लोहारू में किया विकास परियोजनाओं का निरीक्षण, अधिकारियों को दिए ये निर्देश

कृषि एवं पशुपालन मंत्री जेपी दलाल (Haryana Agriculture Minister) ने शनिवार को अधिकारियों के साथ भिवानी में एक समीक्षा बैठक की. बैठक के दौरान उन्होंने विकास परियोजनाओं को लेकर चर्चा की और अधिकारियों को निर्दे निर्देश भी दिए. पढ़ें पूरी खबर.

भिवानी: प्रदेश के कृषि एवं पशुपालन मंत्री जेपी दलाल (Haryana Agriculture Minister) ने शनिवार को लोहारू कस्बे दलाल की समीक्षा में चल रही विभिन्न विकास परियोजनाओं का निरीक्षण (Loharu Development Projects) किया. निरीक्षण के बाद उन्होंने लोक निर्माण विश्राम गृह में अधिकारियों के साथ बैठक की. बैठक के दौरान उन्होंने विकास कार्यों की समीक्षा भी की. साथ ही अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह निर्धारित समय में अपने कार्यों को पूरा करें.

टूटे मार्गों की जाए मरम्मत: कृषि मंत्री ने कहा कि लोहारू में करोड़ों रुपए की लागत से आधुनिक विश्राम गृह, नहर कॉलोनी, अनाज मंडी व सब्जी मंडी का निर्माण करवाया जाएगा. इसके लिए लोक निर्माण विभाग को निर्देश दिए हैं कि इसकी प्रक्रिया शीघ्र शुरू की जाए. उन्होंने कहा कि लोहारू के स्वर्ण जयंती पार्क, स्टेडियम, ऐतिहासिक किले आदि का विस्तार कर सौंदर्यकरण करवाया जाएगा. उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि बरसात का सीजन खत्म होते ही क्षेत्र में टूटे मार्गों की अति शीघ्र मरम्मत करवाई जाए.

पीडब्ल्यूडी विश्राम गृह का किया निरीक्षण: कृषि मंत्री जेपी दलाल ने शनिवार को 50 करोड़ की लागत से निर्माणाधीन रेलवे ओवरब्रिज, 17 करोड़ की लागत से राजकीय कन्या महाविद्यालय (Government Girls College Bhiwani) और लोक निर्माण विश्राम गृह (Public Works Rest House Bhiwani) का बारीकी से निरीक्षण किया. उन्होंने कहा कि अधिकारी विकास कार्यों के निर्माण में किसी प्रकार की कोताही न बरतें. कृषि मंत्री ने कार्यकारी अभियंता कृष्ण कुमार व नेशनल हाईवे के एसडीओ से क्षेत्र में चल रहे निर्माण कार्यों की जानकारी ली और कहा कि सभी विकास परियोजनाओं के निर्माण कार्य में तेजी लाकर इन्हे शीघ्र पूरा कराया जाए.

बरसाती पानी की निकासी के लिए की जाए व्यवस्था: कृषि मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि अगली बैठक में दिए गए निर्देशों की प्रगति रिपोर्ट के साथ समीक्षा की जाएगी. कृषि मंत्री ने अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि बरसाती पानी की निकासी की समुचित व्यवस्था की जाए. उन्होंने कहा कि लोहारू कैनाल के निर्माण कार्य को भी कई हिस्सों में बांटकर शुरू कराया जाए जिससे निर्माण कार्य अति शीघ्र पूरा किया जा सके. सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के कार्य को भी उन्होंने दलाल की समीक्षा अति शीघ्र शुरू कराने की बात कही.

कृषि मंत्री ने कहा कि सभी अधिकारी आपसी तालमेल बनाकर कार्य करें व निर्माण कार्य में प्रयुक्त सामग्री की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाए. कृषि मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत आज विश्व के ताकतवर देशों में शूमार है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विश्व में भारत की साख बनाई है. इस दौरान उन्होंने जन समस्याएं सुनी और समाधान के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए.

Scam 1992 The Harshad Mehta Story Review: दलाल स्ट्रीट के बिग बुल की कहानी में जली है राजनीति की लंका भी

हाल के वर्षों में सामने आए लाखों-करोड़ों के आर्थिक घोटालों के इतिहास में 500 करोड़ रुपये भले ज्यादा बड़ी रकम न लगे परंतु हर्षद मेहता का नाम घोटालेबाजों के सरताज जैसा है. निर्देशक हंसल मेहता की यह वेबसीरीज शेयर बाजार और हर्षद को रोचक ढंग से पेश करती है. दलाल स्ट्रीट में दिलचस्पी न हो तब भी यह आपको निराश नहीं करती.

By: रवि बुले | Updated at : 11 Oct 2020 12:26 PM (IST)

स्कैम 1992: द हर्षद मेहता स्टोरी

Biopic Economic Drama

निर्देशक: हंसल मेहता

कलाकार: प्रतीक गांधी, श्रेया धनवंतरि, निखिल द्विवेदी, सतीश कौशिक, अनंत महादेवन, शारिब हाशमी

यह आज की डिजिटल दुनिया से पहले की कहानी है. जब भी भारतीय शेयर बाजार का इतिहास लिखा जाएगा तो हर्षद शांतिलाल मेहता के बगैर अधूरा होगा. लेकिन हर्षद की कहानी का संबंध सिर्फ शेयर बाजार या अर्थव्यवस्था से नहीं है. इसमें राजनीति के भी ऐसे रंग हैं, जिन्हें दबाने की कोशिशें हुईं या सिर्फ अफवाहें करार दिया गया. आज बटन दबाते ही करोड़ों रुपये एक खाते से दूसरे में पहुंच जाते हैं मगर 1992 में यह बड़ा सवाल था कि क्या किसी सूटकेस में एक करोड़ रुपये आ सकते हैं. सौ-सौ के नोट. हर्षद मेहता वह शख्स था जिसकी कामयाबी की किंवदंतियों ने स्टॉक मार्केट में आम आदमी की दिलचस्पी पैदा की. जिसने सरकारी सेक्टर में पड़े अनुत्पादक धन को शेयर मार्केट में लगा कर मुनाफा कमाने का आइडिया दिया. जिसने उस दौर में सेंसेक्स के उछाल को ऐसी रॉकेट-गति दी कि लोग इस नीरस समझे जाने वाले विषय में डूबने लगे. हर्षद ने कहा कि जीवन में सबसे बड़ा जोखिम तो जोखिम नहीं लेना है. उसे रिस्क से इश्क था.

सोनी लिव पर शुक्रवार को आई वेब सीरीज स्कैम 1992: द हर्षद मेहता स्टोरी (औसतन 50-50 मिनिट के नौ एपिसोड) एक रोमांचक जीवनी है. जो पांच सौ करोड़ रुपये का बैंक फ्रॉड सामने आने के साथ शिखर पर पहुंचती है और एक प्रधानमंत्री पर सवाल खड़े करते हुए खत्म होती है. यह देबाशीष बसु और सुचेता दलाल की किताब द स्कैम पर आधारित है. निर्देशक हंसल मेहता ने शेयर बाजार की कार्यप्रणाली को सरलता और खूबसूती से पेश किया है. अगर आप इसके बारे में बहुत कम भी जानते हैं तो दिलचस्पी बनी रहती है. प्रतीक गांधी ने यहां हर्षद के किरदार को जीवंत कर दिया है. फिल्मों और वेबसीरीज में राजनीतिक तथा अपराध पत्रकारिता तो आपने देखी होगी, यहां पर आप आर्थिक पत्रकारिता के पहलुओं को देखते हैं. यह कहानी भले ही मुंबइया गुजराती हर्षद मेहता की है मगर एक समय के बाद पत्रकार सुचेता दलाल लगभग केंद्र में आ जाती हैं क्योंकि वही स्कैम को सामने लाती हैं. खोजी पत्रकार सुचेता का हर्षद की चालाकियों को समझना और उसका भंडाफोड़ करना, इसके बाद दफ्तर में ही अपनी खबर को अखबार के पन्ने में सही जगह दिलाने का उनका संघर्ष रोमांच पैदा करता है.

वेब सीरीज बताती है कि हर्षद का सफर एक साधारण युवा की तरह शुरू होता है, जिसके पिता का कपड़ों का बिजनेस चौपट हो जाता है. निम्न मध्यमवर्गीय परिवार आर्थिक मुश्किलों में फंस जाता है. परिवार को सहारा देने के लिए क्लर्की करने से लेकर सड़कों पर सामान बेचने तक का काम करने वाले हर्षद के सपने बड़े हैं. वह स्टॉक मार्केट का रुख करता है और चीता की रफ्तार से छलांगें भरता है. परंतु एक झटका उसे और परिवार को फिर सड़क पर ले आता है. टाइम ही टाइम को बदल सकता है और टाइम को बदलने दलाल की समीक्षा के लिए थोड़ा टाइम दीजिए. इसी सीख के साथ हर्षद अपने भाई अश्विन के संग नई शुरुआत करता है.

वह अपनी पैसे की ताकत को और बढ़ाना चाहता है, इसलिए शेयर मार्केट से आगे मनी मार्केट का खिलाड़ी बनता है. इस मनी मार्केट में आम आदमी की जगह निजी-सरकारी बैंकों के धन का खेल होता है. सफलता दुश्मन पैदा करती है लेकिन हर्षद किसी पर ध्यान न देते हुए पूरे आत्मविश्वास से मुस्करा कर कहता हैः अगर जेब में मनी हो तो कुंडली में शनि होने से कोई फर्क नहीं पड़ता. कोई उसे शेयर मार्केट का कपिल देव कहता तो कोई बीएसई (बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज) का अमिताभ बच्चन. कुछ उसे आइंसटीन बताते. मगर सेंसेक्स की दुनिया में जिस नाम से हर्षद को सबसे ज्यादा प्रसिद्धि मिली वह था, बिग बुल. दलाल स्ट्रीट की भाषा में बुल का मतलब है, वह जो अपने सींगों से लोगों की उम्मीदों को ऊंचा उठा दे. हर्षद ने लोगों की आशाओं को इस बुल से भी कहीं ज्यादा ताकत से ऊंचाई पर पहुंचाया. उसने उनका भरोसा जीता और कहा कि भरोसा कानून से बड़ा होता है. इस अति-आत्मविश्वास के साथ उसने बैंकों और सरकारी-गैर सरकारी संस्थानों को मुनाफे की रेस में शामिल किया और कब इसकी टोपी उसके सिर करते हुए सत्ता-व्यवस्था में बैठे लोगों का खिलौना बन गया, उसे ही पता नहीं चला.

यह दलाल की समीक्षा सब कुछ शायद ऐसे ही चलता अगर पत्रकारिता के पेशे में धार नहीं होती. सुचेता दलाल नहीं होती. हंसल मेहता ने सुचेता के माध्यम से उस दौर की पत्रकारिता को पारदर्शी ढंग से सामने रखा. श्रेया धनवंतरि ने बड़ी शिद्दत से यह भूमिका निभाई है.

अंत तक आते-आते कहानी आर्थिक से राजनीतिक होने लगती है और हर्षद का यह बयान मायने रखता है कि अगर मेरी पूंछ में आग लगाएंगे तो लंका उनकी भी जलेगी. मैं गिरा तो सबको गिराऊंगा. ये सब कौन हैं, स्कैम 1992 इसकी तह तक तो नहीं जाती मगर अंत में देश के चर्चित और सबसे बड़े वकील स्व.राम जेठमलानी का वीडियो यह जरूर कहता है कि यह हर्षद मेहता स्कैम नहीं है, इट्स अ पी.वी. नरसिम्हाराव स्कैम. हर नागरिक के लिए जरूरी है कि वह देश का इतिहास जाने. इतिहास के गर्व और शर्म के क्षण उसे मालूम हों. इतिहास सिखाता है. इतिहास के सबक से हम अपने भविष्य को बेहतर बना सकते हैं.

Published at : 10 Oct 2020 12:38 AM (IST) Tags: Movie Review Ravi Buley Scam 1992 The Harshad Mehta Story Movie Review हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें abp News पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट एबीपी न्यूज़ पर पढ़ें बॉलीवुड, खेल जगत, कोरोना Vaccine से जुड़ी ख़बरें। For more related stories, follow: News in Hindi

कांग्रेस नेता ने मायावती को लिखा पत्र और दी इनेलो संग गठबंधन की समीक्षा करने की सलाह

हरियाणा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता करण सिंह दलाल ने गुरूवार को बसपा सुप्रीमो मायावती को पत्र लिखकर उनसे आग्रह किया कि वह इनेलो के साथ अपनी पार्टी के गठबंधन की समीक्षा करें।

कांग्रेस नेता ने मायावती को लिखा पत्र और दी इनेलो संग गठबंधन की समीक्षा करने की सलाह

बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती। फाइल फोटो

हरियाणा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता करण सिंह दलाल ने गुरूवार को बसपा सुप्रीमो मायावती को पत्र लिखकर उनसे आग्रह किया कि वह इनेलो के साथ अपनी पार्टी के गठबंधन की समीक्षा करें। दलाल ने इशारा किया कि अभय सिंह चौटाला की राज्य में सत्ताधारी भाजपा के साथ ‘‘सांठगांठ’’ है। दलाल ने मायावती को लिखे पत्र में दावा किया है कि चौटाला ने भाजपा के साथ साठगांठ कर ली है और विधानसभा में उसके सदस्यों को प्रस्ताव दिया कि वे उन्हें निलंबित करने के लिए एक प्रस्ताव लायें ताकि उन्हें गरीबों से संबंधित मुद्दों पर बोलने से रोका जा सके। दलाल को कथित दुर्व्यवहार और अपमानजनक भाषा के लिए मंगलवार को एक वर्ष के लिए हरियाणा विधानसभा से निलंबित कर दिया गया।

कांग्रेस नेता ने यद्यपि दावा किया कि उन्होंने एक ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के जरिये गरीबों के कुछ राशन कार्ड कथित रूप से रद्द किये जाने का मुद्दा उठाया था। उन्होंने मायावती को लिखे एक पत्र में उल्लेख किया कि उन्होंने ‘‘गरीबों का अधिकार छीनने’’ का मुद्दा उठाया था। उन्होंने पत्र में लिखा है, ‘‘विपक्ष का नेता होने के नाते अभय सिंह चौटाला को गरीबों के मुद्दे पर मेरा समर्थन करना चाहिए था। हालांकि उनकी सत्ताधारी पार्टी के साथ मिलीभगत थी और उन्होंने प्रस्ताव दिया कि मुझे निलंबित करने के लिए सदन में एक प्रस्ताव लाया जाए..जब सत्ता पक्ष ने बाद में प्रस्ताव पेश किया, उन्होंने और उनकी पार्टी के विधायकों ने उसका समर्थन किया, इससे उनका गरीब विरोधी चेहरा बेनकाब हो गया है।

उन्होंने लिखा है, ‘‘आपको (मायावती) एक सांसद के तौर पर काफी अनुभव है लेकिन आपने अपने राजनीतिक करियर में विपक्ष के किसी नेता को एक विपक्षी सदस्य को सदन से निलंबित कराने के लिए सत्ताधारी दलाल की समीक्षा पार्टी से साठगांठ करते नहीं देखा होगा। उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘मुझे यह कहने में कोई हिचकिचाहट नहीं कि इनेलो ने आपकी पार्टी से गठबंधन केवल गरीबों का वोट जुटाने के लिए किया है। दलाल ने गठबंधन की समीक्षा का आग्रह करते हुए कहा, ‘‘मेरा आपसे अनुरोध है कि दलितों और गरीबों के हितों को ध्यान में रखते हुए आप इनेलो के साथ गठबंधन की समीक्षा करें।’

30 साल बाद शनि ग्रह गोचर करके बनाएंगे विशेष राजयोग, 2023 में इन राशियों को आकस्मिक धनलाभ के साथ उन्नति के प्रबल योग

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

विदेशी मुद्रा, क्रिप्टो और सीएफडी ब्रोकर समीक्षाएं

यहां आपको हमारे सभी विदेशी मुद्रा, सीएफडी और क्रिप्टो ब्रोकर समीक्षाओं का संकलन मिलेगा। हमने सूची को डिफ़ॉल्ट रूप से क्रमबद्ध किया है। यदि आप एक दलाल को याद कर रहे हैं, तो हमें ई-मेल करने के लिए स्वतंत्र महसूस करें और हम वांछित समीक्षा को जोड़ने के लिए अपनी पूरी कोशिश करेंगे। इस दलाल की समीक्षा सूची में केवल उन दलालों की सुविधा है जो आपके देश में उपलब्ध हैं। यदि आप अंतरराष्ट्रीय सक्रिय दलालों की तलाश कर रहे हैं तो आप भी देख सकते हैं www।brokercheck. सह

capital-com

mitrade की समीक्षा

nextmarkets

हमारे दलाल की जाँच करें समीक्षा

यहां तक ​​​​कि समर्थक व्यापारियों के लिए, कभी-कभी यह जांचना मुश्किल होता है कि क्या ब्रोकर के पास सस्ते व्यापारिक स्थितियां, विश्वसनीय समर्थन, तेजी से निष्पादन और सम्मानित नियम हैं। यह कहाँ है BrokerCheck काम मे आता है। हमारा मुख्य काम दलालों की पूरी तरह से समीक्षा करना है। एक शिक्षित निर्णय लेने के लिए हमारी अंतर्दृष्टि निश्चित रूप से आपकी मदद करेगी।

चेक उपयोगकर्ता रेटिंग

हर उच्च बिकने वाले अमेज़न उत्पाद की रीढ़ क्या है? अच्छी उपयोगकर्ता प्रतिक्रिया। ई-कॉमर्स के समान, आप भरोसा कर सकते हैं कि अच्छी समीक्षा आमतौर पर एक अच्छे उपयोगकर्ता अनुभव के साथ हाथ से जाती है। यदि आप सही ब्रोकर ढूंढना चाहते हैं, तो यह अक्सर उपयोगकर्ता रेटिंग को देखने के लिए एक बुद्धिमान निर्णय है। हमारे समीक्षा किए गए दलालों की टिप्पणी अनुभाग या स्टार रेटिंग देखें।

क्या आपको हमारी ब्रोकर समीक्षाएं पसंद आईं?

हम आपको किसी भी निवेश या कार्रवाई करने से पहले हमारे जोखिम नोटिस और अस्वीकरण को ध्यान से पढ़ने के लिए कहते हैं। उपलब्ध कराए गए विश्लेषण केवल सूचना उद्देश्यों के लिए हैं और एक सक्षम व्यक्ति के साथ एक व्यक्तिगत चर्चा को प्रतिस्थापित नहीं कर सकते हैं। इन प्रस्तावों के प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष परिणामों के लिए देयता को बाहर रखा गया है। हालाँकि, उपयोगकर्ता को TRADE-REX वेबसाइटों पर मिलने वाले ऑफ़र स्पष्ट रूप से उन देशों के व्यक्तियों पर निर्देशित नहीं किए जाते हैं जो इसमें पोस्ट की गई सामग्री के प्रावधान या पहुंच को प्रतिबंधित करते हैं, विशेष रूप से अमेरिकी प्रतिभूति के विनियमन एस के अर्थ में अमेरिकी व्यक्तियों को नहीं। 1933 का अधिनियम।

उच्च रिटर्न और उच्च जोखिम के बीच हमेशा एक संबंध होता है। किसी भी प्रकार का बाजार या व्यापारिक अटकलें जो असामान्य रूप से उच्च रिटर्न उत्पन्न कर सकती हैं, वे भी उच्च जोखिम के संपर्क में हैं। केवल अतिरिक्त निधियों को ही व्यापार के जोखिम से अवगत कराया जाना चाहिए, और जिनके पास ऐसे फंड नहीं हैं, उन्हें लीवरेज्ड उत्पादों, वायदा, सीएफडी और विदेशी मुद्रा उत्पादों या इसी तरह के व्यापार में भाग नहीं लेना चाहिए। मार्जिन पर विदेशी मुद्रा और वायदा या सीएफडी का व्यापार नुकसान के एक बड़े जोखिम से जुड़ा है और इसलिए हर निवेशक के लिए उपयुक्त नहीं है! TRADE-REX किसी भी नुकसान या लाभ के लिए कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है। सीएफडी जटिल साधन हैं और लीवरेज के कारण तेजी से पैसा खोने का उच्च जोखिम है। सीएफडी का व्यापार करते समय 65-90% खुदरा निवेशक खातों में पैसा खो जाता है। आपको इस बात पर विचार करना चाहिए कि क्या आप समझते हैं कि सीएफडी कैसे काम करता है और क्या आप अपना पैसा खोने का उच्च जोखिम उठा सकते हैं।

BrokerCheck TRADE-REX eK के स्वामित्व में है और इसमें विज्ञापन, प्रायोजित सामग्री, सशुल्क लिस्टिंग, संबद्ध लिंक या मुद्रीकरण के अन्य रूप शामिल हो सकते हैं। BrokerCheck वर्ड-ऑफ-माउथ मार्केटिंग के मानकों का पालन करता है। हम एक ईमानदार, ईमानदार और पारदर्शी प्रस्तुति में विश्वास करते हैं। प्राप्त पारिश्रमिक इस वेबसाइट पर विज्ञापन सामग्री, विषय या योगदान को प्रभावित कर सकता है। यदि उपलब्ध हो, तो ये सामग्री, विज्ञापन स्थान या योगदान स्पष्ट रूप से भुगतान या प्रायोजित सामग्री के रूप में चिह्नित हैं। BrokerCheck जहां भी संभव हो सहबद्ध लिंक का उपयोग करता है। यह मान लेना सुरक्षित है कि जब आप किसी लिंक पर क्लिक करते हैं तो वह एक संबद्ध लिंक होता है। यदि आप किसी संबद्ध लिंक पर क्लिक करते हैं और खरीदारी या पंजीकरण करते हैं, तो हमें एक रेफरल शुल्क प्राप्त हो सकता है। इस वेबसाइट पर व्यक्त किए गए विचार और राय पूरी तरह से लेखकों के हैं। यदि हम किसी विशेष विषय या उत्पाद या सेवा क्षेत्र में विशेषज्ञ होने का दावा करते हैं या प्रतीत होते हैं, तो हम केवल उन उत्पादों या सेवाओं का समर्थन करेंगे, जिन्हें हम अपनी विशेषज्ञता के कारण इस तरह के समर्थन के योग्य मानते हैं। किसी उत्पाद या सेवा के बारे में किसी भी उत्पाद के दावों, आंकड़ों, प्रस्तावों या अन्य अभ्यावेदन पर संबंधित प्रदाता के साथ चर्चा की जानी चाहिए।

Apple, Apple लोगो, iPod, iPad, iPod टच और आईट्यून्स Apple Inc. के ट्रेडमार्क हैं, जो अमेरिका और अन्य देशों में दलाल की समीक्षा पंजीकृत हैं। iPhone Apple Inc. का एक ट्रेडमार्क है। ऐप स्टोर ऐप्पल इंक। Google Play का एक सेवा चिह्न है और Google Play लोगो Google LLC के ट्रेडमार्क हैं।

रेटिंग: 4.48
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 411