SBI ki Yono App Service एसबीआई की योनो एप सेवा

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया द्वारा अपने ग्राहकों को एक हीं प्लेटफार्म पर कई सर्विस का लाभ उपलब्ध कराने के लिए YONO App (you only need one) लांच किया गया है। इस एप को एंड्राइड और आईओएस बेस्ड स्मार्ट फ़ोन पर डाउनलोड किया जा सकता है। एसबीआई खाताधारक इस एप के जरिये सेविंग बैंक खाता खोल सकेंगे। इसके साथ हीं लोन और इंश्योरेंस सेवा का लाभ भी उठा सकेंगे। इसके अतिरिक्त अनेक ई-कॉमर्स सुविधाओं का लाभ भी उठा सकेंगे। इसके अतिरिक्त एसबीआई योनो कैश सर्विस के माध्यम से एप के जरिये बिना डेबिट कार्ड का प्रयोग किये एटीएम मशीन से कैश भी निकाल सकेंगे। इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए एसबीआई खाता धारकों को स्मार्ट फोन में योनो एप डाउनलोड करना होगा।

एसबीआई द्वारा योनो एप के जरिये इन सभी सुविधाओं को ग्राहकों तक पहुंचाने के लिए 60 से अधिक ई-कॉमर्स कंपनियों को एप से जोड़ा गया है। जिनमें ओला, अमेज़न, मिन्त्रा,उबर, जबोंग, शोपेर्सस्टॉप, कौक्स एंड किंग, थॉमस कुक, यात्रा, एयर SBI में ऑनलाइन खोल सकेंगे खाता बीएनबी, स्विगी आदि के नाम शामिल हैं।

Yono App Service योनो एप की सेवाएँ

एप के जरिये एसबीआई खाता धारक मूवी टिकेट बुक करना, कैब बुक करना, ऑनलाइन शौपिंग करना, मेडिकल सेवाएँ, इंश्योरेंस, यात्रा के लिए टिकेट बुकिंग, कार रेंट करने की सुविधा, इंटरटेनमेंट, गिफ्टिंग, ग्रोसरी, हेल्थ एंड पर्सनल केयर,होम एंड फर्निशिंग,हॉस्पिटैलिटी एंड हॉलिडे,ज्वेल्र्स और योनो कैश की सुविधा आदि।

Yono Cash kya hai योनो कैश क्या है

योनो एप में योनो कैश सर्विस के द्वारा बिना डेबिट कार्ड के एटीएम मशीन से कैश निकालने की सुविधा प्राप्त होगी। एप के जरिये कैश निकालने की सुविधा एसबीआई के जिन एटीएम मशीन पर उपलब्ध होगी। उन पर योनो कैश का स्टीकर लगा रहेगा। एप के जरिये कैश निकालने के लिए एटीएम मशीन में डेबिट कार्ड लगाने की जरुरत नहीं होगी। कैश निकालने के लिए 6 अंकों का योनो कैश पिन सेट करना होगा। इसके बाद एप में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर 6 अंकों की रेफ़रन्स आईडी नंबर का मेसेज प्राप्त होगा। ये रिफरेन्स आईडी नंबर और पिन नंबर दोनों की वैलिडिटी 30 मिनट तक होगी। कैश निकालने के एटीएम मशीन के स्क्रीन पर रेफ़रन्स आईडी नंबर और पिन नंबर दोनों लिखना होगा। इसके बाद मशीन से कैश प्राप्त हो SBI में ऑनलाइन खोल सकेंगे खाता जाएगा।

How To Withdraw Yono Cash योनो कैश कैसे निकाले

  • स्मार्ट फ़ोन में आपको योनो एप डाउनलोड करना होगा। एप में लॉग इन करने के SBI में ऑनलाइन खोल सकेंगे खाता बाद योनो कैश विकल्प के अंतर्गत 6 अंकों का पिन सेट करना होगा।
  • इसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर योनो कैश रेफ़रन्स नंबर प्राप्त होगा ये हीं आपका कैश ट्रान्जेक्शन नंबर होगा।
  • कैश ट्रान्जेक्शन नंबर और पिन नंबर दोनों 30 मिनट के लिए वैलिड होंगे। आपको पिन नंबर SBI में ऑनलाइन खोल सकेंगे खाता और रेफ़रन्स नंबर प्राप्त होने के 30 मिनट के अन्दर योनो कैश निकाल लेना होगा।
  • योनो कैश का स्टीकर लगे एसबीआई के एटी एम मशीन से योनो एप के जरिये कैश निकाला जा सकेगा।
  • आपको एटीएम मशीन के स्क्रीन पर योनो कैश के विकल्प का चयन करना होगा।
  • इसके बाद कैश ट्रान्जेक्शन नंबर लिखना होगा।
  • फिर कैश अमाउंट लिखने के बाद 6 अंकों का पिन नंबर लिखना होगा।
  • इसके बाद एटीएम मशीन से कैश निकल जाएगा।
  • योनो कैश सेवा के जरिये एक बार रु 10,000 और एक दिन में अधिकतम रु 20,000 निकाला जा सकता है।

अधिक जानकारी के लिए विडियो देखिये For more information watch video below:

PPF Interest : एसबीआई दे रहा पीपीएफ पर सबसे ज्यादा ब्याज, जानिए आप खोल सकते SBI में ऑनलाइन खोल सकेंगे खाता हैं कि नहीं खाता

PPF Interest : एसबीआई दे रहा पीपीएफ पर सबसे ज्यादा ब्याज, जानिए आप खोल सकते हैं कि नहीं खाता

SBI PPF Latest interest Rate SBI PPF Account खोलने के फायदे जानने के बाद अगर आप भी पब्लिक प्रॉविडेंट फंड खोलने की सोच रहे हैं तो यह जान लें कि SBI सबसे ज्यादा ब्याज दे रहा है। पीपीएफ अकाउंट खोलेने के कई फायदे हैं। जानिए कैसे.

जमशेदपुर, जासं। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया भारत के सबसे पुराने बैंकों में से एक है, जिस पर देश की जनता का काफी भरोसा है। एसबीआई द्वारा समय-समय पर देश के सभी लोगों के लिए कई सुविधाएं शुरू की जाती हैं, ताकि देश के लोगों को इसका लाभ मिल सके।

हाल ही में भारतीय स्टेट बैंक की ओर से देश की जनता के लिए पीपीएफ या पब्लिक प्रोविडेंट फंड खाते की सुविधा शुरू की गई है। यदि आप अपना भविष्य पूरी तरह से सुरक्षित करना चाहते हैं तो SBI PPF Account आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प है। इस एकाउंट को खोलने से आपको कई तरह के फायदे मिलते हैं, आप भी जानिए

बच्चों की पढ़ाई के लिए पिता ने चुराए 14 लाख के जेवर

एसबीआइ पीपीएफ एकाउंट कैसे है भविष्य के लिए लाभदायक

एसबीआइ पीपीएफ एकाउंट देश के किसी भी व्यक्ति के लिए एक बहुत अच्छा विकल्प है, जो अपना भविष्य पूरी तरह से सुरक्षित करना चाहता है। जब आप पीपीएफ खाता खोलते हैं तो आपको इसमें 7.1% की दर से ब्याज मिलता है। इतना ही नहीं पीपीएफ एकाउंट में निवेश करने पर आपको कंपाउंड पावर का भी फायदा मिलता है।

पीपीएफ खाते में आपको मैच्योरिटी राशि, अर्जित रिटर्न और समग्र ब्याज पर किसी प्रकार का टैक्स नहीं देना होता है। जब आप SBI PPF एकाउंट में 1.50 लाख का निवेश करते हैं तो आपको टैक्स में छूट भी दी जाती है।

अवैध खनन को रोकने के लिए चलाए जा रहे सघन अभियान में अब तक 86 डम्पर जब्त किए गए हैं।

जानिए कैसे खोल सकते एसबीआइ पीपीएफ एकाउंट

आप 500 रुपये से भी पीपीएफ खाता शुरू कर सकते हैं। पीपीएफ खाता खोलने के लिए आवश्यक न्यूनतम राशि केवल 500 रुपये है, जबकि अधिकतम निवेश सीमा 1.50 लाख रुपये प्रति वर्ष रखी गई है। याद रखें कि आपका एसबीआई सेविंग अकाउंट आपके आधार कार्ड नंबर से जुड़ा होना चाहिए। क्योंकि पीपीएफ खाता खोलने के लिए आधार कार्ड से जुड़े नंबर पर ही ओटीपी आता है।

जमशेदपुर में ईरानी गैंग के सदस्‍य ठगी और लूटपाट को दे रहे अंजाम

एसबीआई पीपीएफ खाता 15 वर्ष में होता है परिपक्व

एसबीआइ पीपीएफ एकाउंट 15 साल में परिपक्व या मैच्योर होता है। आपको यह सुविधा भी मिलती है कि जब आपका पीपीएफ अकाउंट मैच्योर होने वाला हो तो आप इसे और 5 साल के लिए एक्सटेंड भी कर सकते हैं। इसके लिए मैच्योरिटी पूरी होने से एक साल पहले एकाउंट को बढ़ाना होता है। जब आप पीपीएफ खाता खोलते हैं, तो आप खाते से 5 साल पुराना होने तक उसमें से पैसे नहीं निकाल SBI में ऑनलाइन खोल सकेंगे खाता सकते हैं। अगर आप 15 साल से पहले पैसा निकालते हैं, तो आपके फंड से 1% की कटौती भी की जाती है।

राज्य में कोरोना से आठ गुना ज्यादा ह्रदय रोगियों की हुई मौत

एसबीआई पीपीएफ खाता कौन खोल सकता है

यह खाता कोई भी व्यक्ति खोल सकता है। यहां तक कि नाबालिग बच्चे की ओर से उसके परिवार का कोई भी व्यक्ति यह खाता खोल सकता है।

एसबीआई पीपीएफ खाते के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

आप आसानी से ऑनलाइन एसबीआई पीपीएफ खाता खोल सकते हैं। इसके लिए आपके पास कुछ जरूरी दस्तावेज होने चाहिए, जिसमें

बैंकिंग: अपने बच्चों के नाम पर भी खोल सकते हैं खाता, एटीएम-चेकबुक की भी मिलेगी सुविधा

अपने बच्चों के नाम पर भी खोल सकते हैं खाता

कोरोना वायरस महामारी से लोग बेहद परेशान हैं। इसकी वजह से सभी क्षेत्रों में नुकसान हुआ है। निवेशक भी मुनाफे को लेकर परेशान हैं। ऐसे में लोगों ने फाइनेंशियल प्लानिंग के महत्व को भी समझा है। बच्चों को पैसे की अहमियत के बारे में बताना और उनमें अच्छी वित्तीय आदतें विकसित करना बेहद SBI में ऑनलाइन खोल सकेंगे खाता अहम है। यदि हम बच्चों को कम उम्र में ही सही वित्त शिक्षा दें कि बचत करना हमारे लिए आवश्यक है और पैसों से हम क्या कुछ कर सकते हैं, तो उनका आगे का जीवन आसान हो जाएगा और भविष्य में कठिन परिस्थितियों का सामना वे सरलता से कर पाएंगे।

ऐसे में हम अपने बच्चे को हर महीने जेब खर्च के रूप में एक छोटी-सी रकम दे सकते हैं। उन्हें एक गुल्लक देकर बचत की आदत डलवा सकते हैं। अपने बच्चों को पैसे देकर आप सिखा सकते हैं कि उन्हें ये पैसा एक महीने तक चलाना है और इसमें से कुछ पैसों की बचत भी करनी है। ऐसा करके वह धीरे-धीरे अच्छी-खासी रकम जमा कर सकता है और फिर अपनी सेविंग से वे मनचाहा सामान खरीद सकते हैं।

लेकिन आधुनिक बैंकिंग के जमाने में बच्चों के पास बैंक में खाता खोलने के भी विकल्प हैं। आइए जानते हैं इसके SBI में ऑनलाइन खोल सकेंगे खाता बारे में।

अपने बच्चों के नाम पर भी खोल सकते हैं खाता

देश का सबसे बड़ा बैंक, भारतीय स्टेट बैंक (SBI) बच्चों के लिए बचत खाता खोलने की सुविधा प्रदान करता है। पहला कदम और पहली उड़ान नाम से बचत खाता आप घर बैठे ऑनलाइन ही खोल सकते हैं। इसमें बच्चों के लिए पैसे निकालने की लिमिट भी तय SBI में ऑनलाइन खोल सकेंगे खाता की गई है। इसमें दो तरह के एसबीआई द्वारा नाबालिग बच्चों के लिए दो प्रकार के खाते खोलने की सुविधा उपलब्ध है। पहला- पहला कदम और दूसरा- पहली उड़ान। पहला कदम तथा पहली उड़ान संपूर्ण बैंकिंग उत्पादों के समूह हैं, ये बच्चों को पैसे की बचत का महत्व सीखने में मदद करते हैं।

Digital Bank : डिजिटल बैंक में आज से खुद खोलो खाता, रात में जमा करो या निकालो पैसा, PM Modi का तोहफा

alt

75 digital banking units in 75 districts : बैंक शाखाओं में जाकर पैसा निकालने और जमा करने जैसे बैंकिंग कामकाज के लिए तो बैंक ग्राहक आजकल कम ही शाखाओं पर जाते हैं. लेकिन अब देश में ऐसे भी डिजिटल बैंक (Digital Bank) होंगे, जिनका जमीन पर कोई ब्रांच नहीं होगी, इनका पूरा काम ऑनलाइन होगा. डिजिटल बैंकिंग यूनिट में बैंक कर्मियों की जीहुजूरी नहीं करनी होगी. खुद बैंक खाता खोलो, रात में 2-3 बजे कभी भी पैसा जमा करो या निकालो. कानपुर के अकबरपुर में भी ऐसी ब्रांच खोली गई है.

प्राइम मिनिस्टर नरेंद्र मोदी ने (PM Modi) 24 बैंकों की SBI में ऑनलाइन खोल सकेंगे खाता ऐसी 75 डिजिटल बैंकिंग यूनिट (Digital Banking Units) को हरी झंडी दिखाई. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आजादी का अमृत महोत्सव के तहत बजट 2022-23 में ऐसी डिजिटल बैंकिंग इकाइयों की घोषणा की थी.डिजिटल बैंकिंग के जरिये देश के दूरदराज इलाकों तक तेज गति से बैंकिंग सेवाएं पहुंचाने का लक्ष्य है.5जी आने के बाद इसमें और क्रांति आएगी. एसबीआई समेत 11 सरकारी बैंक, 12 प्राइवेट बैंक औऱ एक स्मॉल फाइनेंस बैंक ने इस डिजिटल इंडिया अभियान में हिस्सेदारी की है.

Digital Banking Unit की खूबियां -----

1.डिजिटल बैंक भी आम बैंक शाखाओं की तरह ही होंगे. मगर ये सेविंग अकाउंट खोलने, बैलेंस चेक करने, पासबुक प्रिंट करने, फंड ट्रांसफर, एफडी खोलने, धन निकासी और जमा करने, स्टॉप पेमेंट से लेकर होम लोन, ऑटो लोन और पर्सनल लोन संबंधित सभी कार्यवाही को ऑनलाइन पूरा करेंगे. इसमें कागजी काम कुछ भी नहीं होगा.

2. डिजिटल बैंकों में बैंक उपभोक्ताओं को ऑनलाइन पेमेंट से लेकर सभी बैंकिंग सुविधाओं की जानकारी भी दी जाएगी. सभी बैंकिंग सुविधाएं 24 घंटे सातों दिन मुहैया कराई जाएंगी ऐसे डिजिटल बैंकों में

3. बैंक उपभोक्ताओं को साइबर क्राइम, बैंकिंग धोखाधड़ी से बचने के तौरतरीके भी ऑनलाइन सिखाए जाएंगे.

4. ऐसा नहीं है कि डिजिटल बैंक में कोई बैंक कर्मचारी नहीं होगा. रिजर्व बैंक के अनुसार, ऐसे डिजिटल बैंकिंग की निगरानी एक चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर (Chief Operating Officer COO)के हाथों में होगी.

5. डीबीयू (DBUs) की पहुंच बढ़ाने के लिए डिजिटल बिजनेस फैसिलटेटर औऱ बिजनेस करेस्पांडेंट की नियुक्ति भी कर सकते हैं.

6. पूरी तरह ऑनलाइन सुविधा देने वाले ऐसे बैंक मौजूदा बैंक शाखाओं के साथ नहीं खोले जा सकते.

7. ऐसी डिजिटल बैंकिंग यूनिट में ग्राहकों और बैंक के बीच लेनदेन से लेकर सभी प्रक्रिया ऑनलाइन पूरी होगी.

8. RBI के अनुसार,ऐसे बैंकों में नए पुराने ग्राहकों की वीडियो केवाईसी होगी. सारे डॉक्यूमेंट ऑनलाइन अपलोड होंगे.

9. बैंक में इंटरैक्टिव बैंकर्स, जमा-निकासी की ऑटोमैटिक मशीन, कान्फ्रेंस यूनिट, डिजिटल वॉल होना जरूरी होगा.

10. ग्रामीण SBI में ऑनलाइन खोल सकेंगे खाता बैंक, पेमेंट बैंक और स्थानीय बैंक छोड़कर अन्य सभी कामर्शियल बैंक ऐसी डिजिटल बैंक यूनिट टायर 1 से 6 सिटी में आरबीआई की मंजूरी के बिना खोल सकेंगे.

SBI Child Bank Account : अपने छोटे बच्चों का खुलवाएं ये स्‍पेशल अकाउंट, बड़ा होकर कहेगा- Thank You मम्मी-पापा, जाने पूरी प्रक्रिया

________________________
लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप न्यूज़ से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Join FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now
Follow on GoogleClick On Star

18 वर्ष से कम उम्र के बच्चे भी खुलवा सकते है खाता:

बता दें 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों का SBI Savings Account माता-पिता बड़ी आसानी से खुलवा सकते हैं।

State Bank of India- SBI बच्चों के खातों को दो कैटेगरी में खोलने की सुविधा देता है।

पहला कैटेगरी का नाम है SBI Pehla Kadam) और दूसरा है SBI Pehli Udaan.

इन दोनों सेविंग अकाउंट को कस्टमर्स घर बैठे ही SBI YONO App से ग्राहक खोल सकते हैं।

वहीं इस दोनो बैंक खातों की खास बात ये हैं कि दोनों में ही Minimum Balance करने की कोई झंझट नहीं रहती है.

इसके साथ ही इस खातों में नेट बैंकिंग (Net Banking), मोबाइल बैंकिंग (Mobile Banking) जैसे सुविधा भी

यह भी पढ़े : बड़ी खुशखबरी : बिहार के इस नियोजनालय में कल लगेगा जॉब कैंप, 12वीं पास व ग्रेजुएट को मिलेगी नौकरी, ऐसे करें आवेदन, 17000 तक होगी सैलरी

मिलती है. आइए हम आपको दोनों सेविंग अकाउंट के डिटेल्स के बारे में जानकारी दे रहे हैं-

पहला कदम बैंक सेविंग अकाउंट (SBI Pehla Kadam):

बता दें पहला कदम SBI Pehla Kadam A/C किसी भी उम्र के नाबालिग बच्चे के लिए खोला जा सकता है।

वहीं इस खाते को माता-पिता या गार्जियन के साथ ज्वाइंट रूप (Joint Account) से भी खोला जा सकता है।

केवल बच्चे के नाम पर खाता (SBI Pehla Kadam Account) नहीं खोला जा सकता है।

इस SBI Pehla Kadam Account को बच्चा और माता-पिता दोनों अलग-अलग अपरेट कर सकते हैं।

इस अकाउंट पर बैंक एक Debit Card जारी करता है जिससे आप 5,000 रुपये तक निकाल सकते हैं।

इस खाते में आपको 2,000 रुपये के Mobile Banking की लेनदेन की Permission मिलती है।

इस खाते(SBI Pehla Kadam Account) में एक चेक बुक भी मिलती है जिसमें 10 चेक होते हैं।

आपको बता दें की यह Cheque Book अभिभावक के नाम पर जारी की जाती है।

इस खाते(SBI Pehla Kadam Account) को खोलते वक्त Mobile No. दर्ज करना जरूरी है।

पहली उड़ान सेविंग अकाउंट(SBI Pehli Udaan):

बताते चलें की State Bank of India- SBI के पहली उड़ान सेविंग अकाउंट(SBI Pehli Udaan Account)

यह भी पढ़े : Bihar University : बड़ी खबर ! आज और कल होने वाली B.Pharma परीक्षा की तिथि बदली, यहां देखें नई तिथि और जाने वजह

को 10 साल से अधिक और 18 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए खुलवाया जा सकता है।

इस SBI Pehli Udaan AC को केवल बच्चों के नाम पर Single Account को रूप में ओपन किया जा सकता है।

वहीं नाबालिग इस खाते(SBI Pehli Udaan Account) को अकेले ही हैंडल कर सकता है।

इस अकाउंट में भी Debit Card की सुविधा मिलती है जिसकी रोजाना की लिमिट 5,000 रुपये है।

इसके साथ ही इस खाते में Net या Mobile Banking के जरिए 2,000 रुपये Transfer किए जा सकते हैं।

इसके साथ ही एक चेक बुक(Cheque Book) भी मिलती है जिसमें 10 चेक दिए होते हैं।

SBI बैंक खाता खोलने का यह है प्रोसेस:

State Bank of India- SBI का SBI Pehla Kadam Account और SBI Pehli Udaan Account दोनों को

आप ऑनलाइन और ऑफलाइन(Online & Offline) तरीकों से खोल सकते हैं।

ऑनलाइन आप बैंक को मोबाइल बैंकिंग SBI YONO App पर ओपन कर सकते हैं।

इसके अलावा आप अपने घर के नजदीक की SBI ब्रांच में जाकर खाता(SBI Savings Account) खोल सकते हैं.

इसके लिए आपको Aadhaar Card, मात-पिता का Aadhaar Card और PAN Card की जरूरत पड़ेगी।

रेटिंग: 4.53
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 504