Frequency Therapeutics Inc (FREQ)

Frequency Thera शेयर (FREQ शेयर) (ISIN: US35803L1089) के बारे में। आप इस पृष्ठ के अनुभागों में से किसी एक में जा कर ऐतिहासिक डेटा, चार्ट्स, तकनीकी विश्लेषण तथा अन्य के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

Frequency Therapeutics Inc समाचार

Investing.com - Frequency Thera ने मंगलवार को तीसरी तिमाही के नतीजों में विश्लेषकों के अनुमानों को पिछाडा और आय ने के बराबर था करा. कंपनी ने आय प्रति स्टॉक $-0.550 बताया कुल.

Frequency Therapeutics Inc कंपनी प्रोफाइल

Frequency Therapeutics Inc कंपनी प्रोफाइल

  • प्रकार : इक्विटी
  • बाज़ार : यूनाइटेड स्टेट्स
  • आईसआईन : US35803L1089
  • सीयुसआईपी : 35803L108

Frequency Therapeutics, Inc., a clinical-stage biotechnology company, focuses on developing therapeutics to activate a person’s innate regenerative potential to restore function. Its Progenitor Cell Activation approach uses small molecules and activate progenitor cells within the body to create functional tissue. The company’s lead product candidate is FX-322, which is in Phase IIa clinical trial to treat the underlying cause of sensorineural hearing loss. It is also developing medicines for patients across a range of degenerative conditions, including multiple sclerosis, and diseases of the muscle, gastrointestinal tract, skin, and bone. The company has a license and collaboration agreement with Astellas Pharma Inc. for the development and commercialization of FX-322, as well as collaboration and licensing agreements with Massachusetts Eye and Ear, the Massachusetts Institute of Technology, The Scripps Research Institute, and Cambridge Enterprises Limited. Frequency Therapeutics, Inc. was incorporated in 2014 and is headquartered in Lexington, Massachusetts.

आय विवरण

तकनीकी सारांश

ट्रेंडिंग शेयर

ट्रेंडिंग शेयर

FREQ टिप्पणियाँ

जोखिम प्रकटीकरण: वित्तीय उपकरण एवं/या क्रिप्टो करेंसी में ट्रेडिंग में आपके निवेश की राशि के कुछ, या सभी को खोने का जोखिम शामिल है, और सभी निवेशकों के लिए उपयुक्त नहीं हो सकता है। क्रिप्टो करेंसी की कीमत काफी अस्थिर होती है एवं वित्तीय, नियामक या राजनैतिक घटनाओं जैसे बाहरी कारकों से प्रभावित हो सकती है। मार्जिन पर ट्रेडिंग से वित्तीय जोखिम में वृद्धि होती है।
वित्तीय उपकरण या क्रिप्टो करेंसी में ट्रेड करने का निर्णय लेने से पहले आपको वित्तीय बाज़ारों में ट्रेडिंग से जुड़े जोखिमों एवं खर्चों की पूरी जानकारी होनी चाहिए, आपको अपने निवेश लक्ष्यों, अनुभव के स्तर एवं जोखिम के परिमाण पर सावधानी से विचार करना चाहिए, एवं जहां आवश्यकता हो वहाँ पेशेवर सलाह लेनी चाहिए।
फ्यूज़न मीडिया आपको याद दिलाना चाहता है कि इस वेबसाइट में मौजूद डेटा पूर्ण रूप से रियल टाइम एवं सटीक नहीं है। वेबसाइट पर मौजूद डेटा और मूल्य पूर्ण रूप से किसी बाज़ार या एक्सचेंज द्वारा नहीं दिए गए हैं, बल्कि बाज़ार निर्माताओं द्वारा भी दिए गए हो सकते हैं, एवं अतः कीमतों का सटीक ना होना एवं किसी भी बाज़ार में असल कीमत से भिन्न होने का अर्थ है कि कीमतें परिचायक हैं एवं ट्रेडिंग उद्देश्यों के लिए उपयुक्त नहीं है। फ्यूज़न मीडिया एवं इस वेबसाइट में दिए गए डेटा का कोई भी प्रदाता आपकी ट्रेडिंग के फलस्वरूप हुए नुकसान या हानि, अथवा इस वेबसाइट में दी गयी जानकारी पर आपके विश्वास के लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं होगा।
फ्यूज़न मीडिया एवं/या डेटा प्रदाता की स्पष्ट पूर्व लिखित अनुमति के बिना इस वेबसाइट में मौजूद डेटा का प्रयोग, संचय, पुनरुत्पादन, प्रदर्शन, संशोधन, प्रेषण या वितरण करना निषिद्ध है। सभी बौद्धिक संपत्ति अधिकार प्रदाताओं एवं/या इस वेबसाइट में मौजूद डेटा प्रदान करने वाले एक्सचेंज द्वारा आरक्षित हैं।
फ्यूज़न मीडिया को विज्ञापनों या विज्ञापनदाताओं के साथ हुई आपकी बातचीत के आधार पर वेबसाइट पर आने वाले विज्ञापनों के लिए मुआवज़ा दिया जा सकता है। इस समझौते का अंग्रेजी संस्करण मुख्य संस्करण है, जो अंग्रेजी संस्करण और हिंदी संस्करण के बीच विसंगति होने पर प्रभावी होता है।

आईआईटी खड़गपुर में पहले चरण के प्लेसमेंट में 1,600 नौकरियों की पेशकश

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), खड़गपुर में दिसंबर के दूसरे सप्ताह में वर्ष 2021-22 के प्लेसमेंट सत्र के पहले चरण का समापन हुआ

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), खड़गपुर में दिसंबर के दूसरे सप्ताह में वर्ष 2021-22 के प्लेसमेंट सत्र के पहले चरण का समापन हुआ, जिसमें छात्रों को 1,600 से अधिक नौकरियों की पेशकश की गई और इंटर्नशिप के 900 से अधिक प्रस्ताव मिले। संस्थान की ओर से जारी एक बयान में यह जानकारी दी गई है।

बयान के मुताबिक, “प्लेसमेंट सत्र के पहले दिन 500 से अधिक ‘प्री प्लेसमेंट ऑफर’ (पीपीओ) आए। दूसरे दिन पीपीओ की संख्या बढ़कर 1,000 से अधिक हो गई। यह संख्या सभी ‘‘आईआईटी में नौकरियों की पेशकश के लिहाज से एक मील का पत्थर’’ है।”

बयान के अनुसार, संस्थान में 50 लाख रुपये से 2.64 करोड़ रुपये के सालाना पैकेज के दायरे में 48 नौकरियों की पेशकश की गई। इसमें कहा गया है कि 45 से अधिक अवसरों की पेशकश अंतरराष्ट्रीय कंपनियों से मिली। इस साल इस सत्र में पांच विदेशी छात्रों को भी नौकरियां मिलीं।

सॉफ्टवेयर, एनालिटिक्स, कंसल्टिंग, कोर इंजीनियरिंग, बैंकिंग और हाई-फ्रीक्वेंसी ट्रेडिंग सहित विभिन्न क्षेत्रों की 300 से अधिक कंपनियों ने पहले चरण के प्लेसमेंट सत्र में हिस्सा लिया।

जिन कंपनियों ने हाल ही में समाप्त हुए इस सत्र में छात्रों की भर्ती की, उनमें एयरबस, एसेंचर जापान, दा विंची डेरिवेटिव्स, एक्सेल, गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, क्वालकॉम, स्क्वायरपॉइंट कैपिटल, एन के सिक्योरिटीज, हिंदुस्तान यूनिलीवर, टाटा स्टील और अन्य शामिल हैं।

संस्थान के करियर डेवलपमेंट सेंटर के अध्यक्ष ए राजकुमार ने कहा, ‘‘आईआईटी खड़गपुर का मजबूत पाठ्यक्रम और छात्रों का तकनीकी कौशल इस शानदार सफलता की वजह रहा।’’

प्लेसमेंट सत्र का अगला चरण जनवरी 2023 के दूसरे सप्ताह में शुरू होने वाला है।

राजकुमार ने कहा कि दूसरे चरण में और अधिक कंपनियों द्वारा छात्रों को प्लेसमेंट और इंटर्नशिप के अवसर प्रदान करने की उम्मीद है।

फ़्रीक्वेंसी ट्रेडिंग

आईआईटी दिल्ली की पूर्व छात्र पारुल और आलोक मित्तल

नई दिल्ली, 14 जुलाई (हि.स.)। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) दिल्ली की पूर्व छात्र पारुल और आलोक मित्तल ने संस्थान के एन्डाउमेंट फंड (बंदोबस्ती कोष) में 5 करोड़ रुपये के योगदान का संकल्प लिया है।

इस कोष का उद्देश्य वैज्ञानिक और तकनीकी शिक्षा और अनुसंधान में उत्कृष्टता के माध्यम से भारत और दुनिया में योगदान करना है। इसके अलावा उद्योग और समाज के लिए एक मूल्यवान संसाधन के रूप में सेवा करना और सभी भारतीयों के लिए गौरव का स्रोत बने रहना है।

पारुल आईआईटी दिल्ली की 1995 बैच की इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में स्नातक है। उन्होंने उमीच, एन आर्बर से कंप्यूटर विज्ञान में स्नातकोत्तर किया। वह एक बेस्ट-सेलर उपन्यासकार हैं, उन्होंने तीन लाइट-रीड फिक्शन उपन्यास प्रकाशित किए हैं। वह एक कलाकार भी हैं और उन्होंने गुरुग्राम में अपने चित्रों की प्रदर्शनी लगाई है। पेशेवर रूप से, पारुल को कोडिंग, समस्या समाधान और शोध करना पसंद है।

पारुल ने अपने शुरुआती करियर के दौरान आईबीएम रिसर्च में काम किया और कई पेपर और पेटेंट लिखे। उन्होंने कई वर्षों तक पेरेंटिंग स्पेस में अपना स्टार्टअप भी चलाया। उन्होंने 2019 में क्वांट रिसर्चर के रूप में हाई फ़्रीक्वेंसी ट्रेडिंग स्टार्टअप में शामिल होने से पहले यात्रा डॉट कॉम में वीपी, प्रोडक्ट मैनेजर के रूप में कुछ समय के लिए काम किया।

आलोक आईआईटी दिल्ली (कंप्यूटर साइंस 1994 बैच) और यूसी, बर्कले से स्नातक हैं। उन्हें शिक्षा और उद्यमिता का शौक है। वह टीआईई दिल्ली के बोर्ड में कार्यरत हैं, इंडियन एंजेल नेटवर्क की स्थापना की है, और प्लाक्षा विश्वविद्यालय में संस्थापक ट्रस्टी हैं। वह कई वर्षों से स्कूली छात्रों को मनोरंजक गणित और समस्या समाधान पढ़ा रहे हैं।

आलोक ने 1999 में अपने पहले स्टार्टअप के साथ उद्यमिता की शुरुआत की। इसके बाद उन्होंने कनान पार्टनर्स के लिए भारत उद्यम पूंजी संचालन की स्थापना और संचालन किया। वह वर्तमान में एमएसएमई वित्तपोषण के लिए भारत के अग्रणी डिजिटल प्लेटफॉर्म इंडिफी टेक्नोलॉजीज में सह-संस्थापक और सीईओ हैं।

Types of Stock Trading in Hindi: शेयर मार्केट में ट्रेडिंग कितने प्रकार से की जाती है? जानिए

Types of Trading in India: अगर आप शेयर मार्केट में निवेश करना चाहते है, तो पहले आपको यह जान लेना आवश्यक है कि शेयर मार्केट में ट्रेडिंग के कितने प्रकार होते है?(Types of Trading in Stock Market) इस लेख के माध्यम से हम जानेंगे कि ट्रेडिंग कितने प्रकार से होती है। (Types of Trading in Hindi)

Types of Stock Trading in Hindi: शेयर मार्केट ट्रेडिंग में रुचि रखने वालों के लिए अवसरों का सागर है। यह बहुत ही आकर्षक है अगर ट्रेडिंग में सही रणनीति का पालन किया जाए तो आप खूब सारा पैसा बना सकते है। लेकिन एक बात आपको समझना चाहिए कि आप किस प्रकार की रणनीति से स्टॉक मार्केट में निवेश करना चाहते है। दरअसल शेयर market में ट्रेडिंग करने के बहुत सारे तरीके मौजूद है। तो अगर शेयर मार्केट में आप भी निवेश करना चाहते है, तो पहले आपको यह जान लेना आवश्यक है कि शेयर मार्केट में ट्रेडिंग के कितने प्रकार होते है?(Types of Trading in Stock Market) इस लेख के माध्यम से हम जानेंगे कि ट्रेडिंग कितने प्रकार से होती है। (Types of Trading in Hindi)

Types of Share Trading in India

1) इंट्राडे ट्रेडिंग (Intraday Trading)

यह व्यापारियों द्वारा शेयर मार्केट में प्रचलित सबसे सामान्य प्रकार का व्यापार है। इंट्राडे ट्रेडिंग एक ही दिन के व्यापार को संदर्भित करता है। व्यापारियों को बाजार बंद होने से पहले उसी दिन अपने स्टॉक को बेचना और खरीदना या खरीदना और बेचना होता है। इस स्टाइल को "व्यापार बंद करना" के रूप में भी जाना जा सकता है। यह किसी भी अन्य फॉर्मेट की तुलना में हाई ROIs चाहने वालों के लिए सबसे एग्रेसिव प्रकार के व्यापार में से एक है।

2) स्विंग ट्रेडिंग (Swing Trading)

यह एक प्रकार का शार्ट टर्म ट्रेडिंग है जो आम तौर पर 2 दिनों से 2 सप्ताह के बीच रहता है। जब कोई स्टॉक या ऑप्शन में निवेश करना चाहता है तो स्विंग ट्रेडिंग एक अच्छा विकल्प है। टेक्निकल ट्रेडर्स और चार्टिस्ट जो टेक्निकल टूल का उपयोग करके शार्ट टर्म प्राइस मोमेंटम का निरीक्षण करना पसंद करते हैं, इस कैटेगरी में आते हैं। ओवरनाइट ट्रेडों में अधिक मार्जिन के कारण यहां आवश्यक पूंजी दिन के कारोबार की तुलना में अधिक है।

3) आर्बिट्रेज ट्रेडिंग (Arbitrage Trading)

आर्बिट्रेज ट्रेडिंग एक ऐसी शैली है जो दो या दो से अधिक बाजारों या एक्सचेंजों में मूल्य अंतर का लाभ उठाती है। यह केवल एक विशाल नेटवर्क वाली प्रमुख ट्रेडिंग फर्मों के लिए रिजर्व्ड है क्योंकि इसके लिए कई एनालिटिकल स्किल की आवश्यकता नहीं होती है, लेकिन अधिक नेटवर्क स्पीड की आवश्यकता होती है।

4) पोजीशनल ट्रेडिंग (Positional Trading)

यह एक लंबी अवधि की ट्रेडिंग स्ट्रेटेजी है। पोजीशनल ट्रेडर बाजार में अल्पकालिक उतार-चढ़ाव को नजरअंदाज करते हैं क्योंकि उनका मानना ​​​​है कि उनकी दीर्घकालिक दृष्टि चीजों को सुलझाती है। व्यापारी हमेशा कंपनी के भीतर बड़े गेम चेंजर की तलाश में रहते हैं ताकि उन्हें उनका वांछित रिटर्न मिल सके, इसलिए होल्डिंग पीरियड सबसे महत्वपूर्ण चिंता का विषय नहीं है।

5) ऑप्शन स्ट्रेटेजीज (Options Strategies)

ऑप्शन ट्रेडिंग के लिए एक ऑब्जेक्टिव और मैथमेटिकल टाइप की सोच की आवश्यकता होती है। चूंकि रणनीति बनाना एक कठिन खेल है, इसलिए किसी को अपनी रणनीति बनाने और उन्हें लागू करने में अच्छा बनने के लिए थोड़ा अभ्यास और समय की आवश्यकता हो सकती है। भारत में, बहुत कम ऑप्शन ट्रेडर्स हैं, ज्यादातर जागरूकता की कमी ऐसा नहीं कर पाते।

6) ट्रेड युसिंग टेक्निकल एनालिसिस (Trade using Technical Analysis)

स्टॉक मार्केट टेक्निकल एनालिसिस ट्रेडिंग की किसी भी रणनीति के लिए महत्वपूर्ण है। स्टॉक टेक्निकल एनालिसिस टूल का उपयोग आपको शेयर बाजार की मांग और आपूर्ति में निकट परिवर्तनों के बारे में बेहतर जानकारी दे सकता है। एक स्किल के रूप में टेक्निकल एनालिसिस होने से व्यापारियों को सफल दिन के व्यापारी, स्थितीय या यहां तक ​​​​कि स्विंग व्यापारी बनने में मदद मिलती है।

7) मनी फ्लो बेस्ड ट्रेडिंग (Money Flow Based Trading)

Money Flow Based Trading ओपन इंटरेस्ट एनालिसिस, प्रमोटर डील, स्टेक सेल्स, ग्रॉस डिलीवरी डेटा, एफआईआई इनफ्लो और डीआईआई फ्लो इन और स्टॉक से बाहर पर निर्भर करती है। बाजार में आने वाले रुझानों की पहचान करने के लिए ऐसा डेटा आवश्यक है। यदि आपके पास पैसे के प्रवाह का विश्लेषण करने के लिए एक प्रवृत्ति है, तो यह आपके लिए सही प्रकार की ट्रेडिंग रणनीति है।

8) ट्रेड ड्रिवेन बाई इवेंट्स (Trade Driven by Events)

इवेंट बेस्ड ट्रेडिंग एक कॉर्पोरेट इवेंट का लाभ उठाता है जो घटित हुई है या होने वाली है। यह विलय और अधिग्रहण, दिवालियेपन, कमाई कॉल आदि के समय बाजार की कीमतों में बदलाव का फायदा उठाने का प्रयास करता है। इस ट्रेडिंग स्टाइल को यह समझने के लिए टेक्निकल एनालिसिस स्किल की आवश्यकता होती है कि इस तरह के परिवर्तन किसी घटना के होने से पहले बाजार को कैसे प्रभावित करते हैं।

9) हाई फ्रीक्वेंसी ट्रेडिंग (High Frequency Trading)

हाई फ्रीक्वेंसी ट्रेडिंग स्पीड के बारे में है। निवेश बैंक, संस्थागत व्यापारी, हेज फंड आदि हाई स्पीड वाले कंप्यूटरों का उपयोग हाई स्पीड पर बड़े आर्डर का लेन-देन करने के लिए करते हैं। चूंकि सब कुछ कंप्यूटर आधारित है, इसलिए एनालिसिस के लिए कोई जगह नहीं है और निष्पादन के लिए केवल क्विक कॉल है। इस प्रकार के व्यापार की सलाह व्यक्तियों को नहीं दी जाती है, लेकिन यदि आप रुचि रखते हैं, तो आप अपना स्वयं का फंड शुरू कर सकते हैं या इसके प्रोग्रामर के रूप में एक फंड में शामिल हो सकते हैं।

10) क्वांटिटेटिव ट्रेडिंग (Quantitative Trading)

क्वांटिटेटिव ट्रेडिंग क्वांटिटेटिव एनालिसिस पर आधारित है। यह क्वांट फाइनेंस का एक बहुत ही जटिल क्षेत्र है। Statistical या Mathematical बैकग्राउंड के बहुत से लोग कंप्यूटर एनालिसिस और नंबर क्रंचिंग का उपयोग करके अपना स्थान पाते हैं। एक इच्छुक व्यक्ति के फ़्रीक्वेंसी ट्रेडिंग पास अच्छी प्रोग्रामिंग और मैथमेटिकल स्किल होना चाहिए। यह सलाह दी जाती है कि आप इस स्टाइल को अपनाने से पहले रिसर्च करें।

शेयर बाजार में लगाए गए पैसे से हर निवेशक की अलग-अलग जरूरतें और मांगें होती हैं। शेयर बाजार में कोई निर्णायक बेस्ट ट्रेडिंग स्ट्रेटेजी नहीं है क्योंकि सफलता उन्हें मिलती है जो अपनी शैली में इक्का-दुक्का होते हैं।

IIT Placements 2022: आईआईटी खड़गपुर को मिले 1600 जॉब ऑफर, 900 से ज्यादा छात्रों को इंटर्नशिप का मौका

IIT-खड़गपुर का प्लेसमेंट का पहला सीजन खत्म हो गया है. इस दौरान संस्थान ने 50 लाख रुपये से 2.64 करोड़ रुपये की सीटीसी रेंज में 48 ऑफर दर्ज किए. बयान में कहा गया है कि 45 से अधिक ऑफर अंतरराष्ट्रीय कंपनियों से आए हैं.

IIT Placements 2022

aajtak.in

  • नई दिल्ली,
  • 18 दिसंबर 2022,
  • (अपडेटेड 18 दिसंबर 2022, 2:18 PM IST)

IIT-खड़गपुर का प्लेसमेंट का पहला सीजन खत्म हो गया है. इस दौरान 1600 से अधिक नौकरी के प्रस्ताव मिले हैं. वहीं, 900 से ज्यादा छात्रों को इंटर्नशिप के अवसर मिले हैं. ये सभी जानकारी संस्थान द्वारा जारी एक बयान में दी गई. बयान में बताया गया कि सीजन की शुरुआत 500 से अधिक प्री-प्लेसमेंट ऑफर (पीपीओ) के साथ हुई थी. जल्द ही दूसरे दिन 1000 से अधिक ऑफर तक पहुंच गया था.

300 कंपनियों ने पहले प्लेसमेंट सीजन में हिस्सा लिया

संस्थान ने 50 लाख रुपये से 2.64 करोड़ रुपये की सीटीसी रेंज में 48 ऑफर दर्ज किए. बयान में कहा गया है कि 45 से अधिक ऑफर अंतरराष्ट्रीय कंपनियों से आए हैं. पांच विदेशी छात्रों ने भी सत्र में नौकरी हासिल की. सॉफ्टवेयर, एनालिटिक्स, कंसल्टिंग, कोर इंजीनियरिंग कंपनियों, बैंकिंग फ़्रीक्वेंसी ट्रेडिंग और हाई-फ्रीक्वेंसी ट्रेडिंग सहित विभिन्न क्षेत्रों में 300 से अधिक कंपनियों ने पहले चरण में भाग लिया.

सम्बंधित ख़बरें

SSC CGL Tier 1 की आंसर-की जारी, ऐसे दर्ज करें आपत्ति
Constable Jobs: CISF कॉन्स्टेबल-ट्रेड्समैन की 750 से ज्यादा रिक्तियां, 10वीं पास जल्द करें नौकरी के लिए आवेदन
Teacher Recruitment 2022: यहां 7500 से ज्यादा शिक्षकों पर निकली भर्ती, जल्द करें आवेदन, जानें सैलरी
REET 2023: 48,000 शिक्षक भर्ती के लिए शुरू होने वाले हैं आवेदन, देखें एग्जाम डेट
घोषित हुआ SSC CHSL Tier II रिजल्ट, ये रहा डायरेक्ट लिंक

सम्बंधित ख़बरें

ये कंपनियां हुईं शामिल

एयरबस, एक्सेंचर जापान, दा विंची डेरिवेटिव्स, एक्सेल, गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, क्वालकॉम, स्क्वायरपॉइंट कैपिटल, एन के सिक्योरिटीज, हिंदुस्तान यूनिलीवर, टाटा स्टील जैसी कंपनियां इस प्लेसमेंट सीजन में शामिल हुईं. संस्थान के करियर डेवलपमेंट सेंटर के अध्यक्ष ए राजकुमार ने कहा, "IIT-खड़गपुर का मजबूत पाठ्यक्रम और छात्रों के तकनीकी कौशल" इस शानदार सफलता की वजह है.

दूसरा प्लेसमेंट सीजन जनवरी में शुरू होने वाला है

प्लेसमेंट सत्र का अगला चरण जनवरी 2023 के दूसरे सप्ताह में शुरू होने वाला है. राजकुमार ने कहा कि दूसरे चरण में अधिक कोर कंपनियों द्वारा छात्रों को प्लेसमेंट और इंटर्नशिप के अवसर प्रदान करने की उम्मीद है.फ़्रीक्वेंसी ट्रेडिंग फ़्रीक्वेंसी ट्रेडिंग

आईआईटी बॉम्बे के प्लेसमेंट सीजन में भी हुई नौकरियों की बौछार

बता दें कि इससे पहले आईआईटी बॉम्बे के प्लेसमेंट सीजन 2022 में अब तक नौकरियों की बौछार फ़्रीक्वेंसी ट्रेडिंग हुई है. IIT बॉम्बे के छात्रों को 1500 से अधिक नौकरी के प्रस्ताव मिले. जिनमें से 1224 को स्वीकार कर लिया गया. वहीं, प्लेसमेंट ड्राइव के 9वें दिन तक संस्थान द्वारा साझा किए गए आंकड़ों के अनुसार, 25 छात्रों ने प्रति वर्ष 1 करोड़ रुपये से अधिक सीटीसी की नौकरी का ऑफर स्वीकार किया है.

रेटिंग: 4.95
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 761