और उसके बाद आपकी कमाई(Earn Money) में काफी इजाफा होगा… जानते है कई खास बातें…

Rich Dad Poor Dad Book In Hindi

Best Share Market Books In Hindi In 2022 | शेयर मार्किट बुक्स

आज हम इस आर्टिकल में आपको Share Market Books जानिये कैसे Stock Broker का सही चयन करें for Beginners in Hindi के बारे में बताएंगे दोस्तों शेयर मार्केट में लोगों की रुचि दिन पर दिन बढ़ती जा रही है और कुछ नए इन्वेस्टर या फिर जो इन्वेस्ट करना चाहते है उनके लिए इसे समझना थोड़ा चुनौती पूर्ण होता है क्योंकि उन्हें शेयर मार्केट के बारे में सही नॉलेज नहीं होती और वो किसी के बहकावे में आकर स्टॉक्स में इन्वेस्ट कर देते है फिर बाद में उनका पैसा डूब जाता है ऐसे में आपको पहले शेयर मार्किट में लर्निंग की जरूरत होती है इसलिए आज हम आपको शेयर मार्केट से जुड़ी Share Market Books In Hindi के बारे में बताएंगे और इन बुक्स को आपको जरूर पढ़ना चाहिए

आइए जानते हैं Share Market Books for Beginners in Hindi शेयर मार्केट लर्निंग के लिए बेस्ट बुक्स के बारे में और अगर आपको शेयर मार्केट में नए हैं या फिर आप शेयर मार्केट के बारे में जानना चाहते हैं तो मैं आपको ऐसे ही Best Share Market Books In Hindi के बारे में बताऊंगा

The intelligent Investor | द इंटेलिजेंट इन्वेस्टर

यदि आप शेयर मार्केट के बारे में अच्छे से जानना चाहते हैं तो मैं आपसे सिफारिश करूंगा कि आप द इंटेलीजेंट इन्वेस्टर बुक का चयन करें क्योंकि इस बुक्स में शेयर मार्केट के बारे में एक दम बेसिक से जानकारी दी गई है और यह अब तक की बेस्ट शेयर मार्केट लर्निंग बुक्स भी है और यह बुक शेयर मार्केट की बाइबिल के रूप में जानी जाती है और यह बुक महान इन्वेस्टर बेंजामिन ग्राहम के द्वारा लिखी गई है

Share Market book in hindi

आप इस बुक में शेयर मार्केट की संपूर्ण जानकारी और अपने लाभ को कैसे बढ़ाया जाए और आप अपने इमोशन पर काबू कैसे रखें और फाइनेंस विश्लेषण के बारे में अच्छे से जानकारी प्राप्त कर पायेंगे

Rich Dad’s Guide to Investing | रिच डैड्स गाइड टू इन्वेस्टिंग

दोस्तों इस बुक को रॉबर्ट कियोसकी द्वारा लिखा गया है और रॉबर्ट कियोसकी एक ऐसे व्यक्ति हैं जो अपनी इन्वेस्टिंग के स्ट्रेटजी के दम पर ना सिर्फ अपनी जिंदगी बल्कि लाखों लोगों की लाइफ में बदलाव लाया है और वह एक महान इन्वेस्टर व बिजनेस कोच भी रह चुके हैं और रॉबर्ट कियोसकी रिच डैड गाइड इन्वेस्टिंग बुक्स के फाउंडर भी है

share market books in hindi


इस बुक में आपको इन्वेस्टिंग करने के बेहतरीन टिप्स व आप अपना रिच माइंडसेट कैसे बना सकते हैं और यह भी जाने को मिलेगा कि अमीर कैसे बना जा सकता है और इस बुक से शेयर मार्केट समझ में पहले बेहतरी होगी

Hindi Edition – Buy Now

Intraday Trading Ki Pehchan

यह बुक भी शेयर मार्केट सीखने के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि बहुत से इन्वेस्टर इंट्राडे ट्रेडिंग के द्वारा ही शेयर बाजार में इन्वेस्ट करते हैं और यह जल्दी पैसे कमाने का शेयर मार्किट में अच्छा विकल्प होता है

दोस्तों इंट्राडे ट्रेडिंग करने के लिए आपको टिप्स और ट्रिक्स के बारे में पता होना चाहिए क्योंकि जब आपको इनके तरीके के बारे में पता होगा तभी आप इसमें लाभ कमाने के लिए ज्यादा अवसर मिलेंगे और उतना ही पैसे डूबने की संभावना कम होंगी

इस बुक में आपको इंट्राडे ट्रेडिंग और मार्केट सिक्योरिटी के बारे में और इसके अलावा रिस्क कंट्रोल और पोर्टफोलियो मैनेजमेंट में के बारे में सीखने को मिलेगा

Hindi Edition – Buy Now

ट्रेडिंग शुरू करने से पहले स्टॉकब्रोकर कैसे चुनें?

ट्रेडिंग शुरू करने से पहले स्टॉकब्रोकर कैसे चुनें?

आर्थिक मंदी के बावजूद , खोले जा रहे नए डीमैट खातों की संख्या जो मार्च २०१९ तक 35.9 मिलियन थी वो मार्च जानिये कैसे Stock Broker का सही चयन करें 2020 में बढ़कर 40.8 मिलियन हो गई है । इसके अलावा , इक्विटी कैपिटल मार्केट्स ने अगस्त 2020 को समाप्त होने वाली 5 महीने की में अवधि 24% की साल दर साल की वृद्धि दिखाई है। नए डीमैट खातों की संख्या में उल्लेखनीय वृद्धि और शेयर बाजार गतिविधियों में बढ़ोतरी भारतीय शेयर बाजार में रीटेल निवेशकों की बढ़ते हुए भागीदारी को दर्शाता है।

शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने वाले नए निवेशकों के पास फुल -सर्विस ब्रोकरेज फर्म और डिस्काउंट ब्रोकरेज फर्म यह दो विकल्प होते है।

डिस्काउंट ब्रोकरेज बनाम फुल -सर्विस ब्रोकरेज

भारतीय ब्रोकरेज उद्योग पिछले कुछ वर्षों में इन दो प्रमुख सेवाओं को प्रदान कर रही है -

डिस्काउंट ब्रोकर : एक डिस्काउंट ब्रोकर वह है जो डीमैट और ट्रेडिंग खातों की बुनियादी सेवाएं किफायती मूल्य में प्रदान करता है। यहाँ आप न केवल सब्सक्रिप्शन प्लान्स का चयन कर सकते हैं बल्कि कम ब्रोकरेज दरों का लाभ भी उठा सकते है।

फुल -सर्विस ब्रोकर : ये वित्तीय संस्थान हैं जो स्टॉक ट्रेडिंग सेवाओं के साथ-साथ अनुसंधान और सलाह प्रदान करते हैं। हालांकि, वे तुलनात्मक रूप से अधिक ब्रोकरेज लेते हैं जो आपके ट्रेडिंग वॉल्यूम के आनुपातिक होते हैं।

आजकल अधिकतर नए निवेशकों का डिस्काउंट ब्रोकरेज की ओर अधिक झुकाव है क्योंकि यह उनको कम मूल्य पर अधिक ट्रेड करने का मौका देता है।

ब्रोकर चुनते समय इन तथ्यों का विचार करे : ब्रोकर का चयन आपके ट्रेडिंग करने के अनुभव और ट्रेडिंग के दौरान जो ब्रोकरेज के खर्च आते हैं उसपे उल्लेखनीय प्रभाव डालेगा। नीचे कुछ महत्वपूर्ण जानिये कैसे Stock Broker का सही चयन करें मापदंड दिए गए हैं जिनका मूल्यांकन आप एक सही ब्रोकर को चुनने के दौरान कर सकते है।

रिसर्च के बाद ही चुनें अपने स्टॉक्स

क्वालिटी रिसर्च सही स्टॉक लेने के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। आप जिन शेयरों को ट्रेड करने जा रहे हैं, उनके बारे में जानने से ज्यादा भरोसेमंद कुछ नहीं हो सकता। दुर्भाग्य से, अधिकांश ट्रेडर स्टॉक चुनने से पहले पर्याप्त रिसर्च नहीं करते। यह या तो रिसर्च के महत्व के प्रति अज्ञानता के कारण हैं या लापरवाही की वजह से। ज्यादातर मामलों में ये दोनों कारण हैं। यदि आपके पास पर्याप्त जानकारी हो तो आपके ट्रेड की स्पीड बढ़ जाती है। आपकी क्षमता बढ़ जाती है। इंट्रा-डे ट्रेडर के रूप में आप निश्चित ट्रेडिंग घंटों में छोटे मूल्य में उतार-चढ़ाव का लाभ उठाकर संपत्ति बना सकते हैं। इस प्रकार, एक अच्छा आरओआई हासिल करने के लिए त्वरित निर्णय लेना अत्यधिक महत्वपूर्ण है।

खुद ही चार्ट पढ़ने की क्षमता विकसित करें

आपको पता है कि इंट्रा-डे ट्रेडर के तौर पर कारोबार शुरू करने के लिए आपको पहले दिन से ही टेक्निकल चार्ट्स पर निर्भर रहना होगा और यदि आप उन चार्ट्स को खुद ही पढ़ने लगते हैं तो यह आपके लिए बहुत फायदेमंद होगा। बिजनेस की इस लाइन में आप चार्ट के माध्यम से मुश्किल फैसले ले सकते हैं। जानिये कैसे Stock Broker का सही चयन करें चार्ट यह समझने के लिए बैरोमीटर का काम करते हैं कि क्या हो रहा है, क्या काम करता है और क्या नहीं। इस तरह, चार्ट पढ़ने की क्षमता एक बहुत ही महत्वपूर्ण स्किलसेट है। यह ध्यान में रखते हुए कि आपने चार्ट पढ़ने और समझने का कौशल विकसित किया है, यह सुनिश्चित करना अत्यंत महत्वपूर्ण है कि जिन शेयरों पर आपने नजर रखी है, वह निश्चित चार्ट पैटर्न प्रोजेक्ट करते हैं। ऐसे स्टॉक में ट्रेड करना उचित नहीं है जिसके बारे में पर्याप्त इतिहास न हो और न ही आपको ऐसे शेयरों का विकल्प चुनना चाहिए जो एक स्पष्ट पैटर्न नहीं दिखाते हो। लंबे इतिहास वाले स्टॉक आपको किसी पैटर्न के दोहराने के पैटर्न और ट्रेड में मदद कर सकते हैं।

बाजार को चुनौती न दें- उस दिन के ट्रेंड के साथ चलें

बड़ी संख्या में व्यापारी विरोधाभासी परिदृश्यों को फॉलो कर सकते हैं। लेकिन, अधिकांश व्यापारिक दुनिया बाजार की लहरों की सवारी पसंद करती है। इस प्रक्रिया में बाजार में किसी ट्रेंड को पहचानकर और उसकी सवारी करके की जाती है। आपको एक स्पष्ट तस्वीर देने के लिए, जब आप नोटिस करते हैं कि मार्केट बढ़ रहा है, तो आपको उन शेयरों को चुनना चाहिए जो आपको अधिक विस्तारित अवधि के लिए अपनी पोजिशन होल्ड रखने की अनुमति देते हैं। इसके विपरीत, यदि बाजार गिर रहा है, तो आपको छोटी पोजिशन पर विचार करना चाहिए।

ट्रेडिंग शुरू करने से पहले स्टॉकब्रोकर कैसे चुनें?

ट्रेडिंग शुरू करने से पहले स्टॉकब्रोकर कैसे चुनें?

आर्थिक मंदी के बावजूद , खोले जा रहे नए डीमैट खातों की संख्या जो मार्च २०१९ तक 35.9 मिलियन थी वो मार्च 2020 में बढ़कर 40.8 मिलियन हो गई है । इसके अलावा , इक्विटी कैपिटल मार्केट्स ने अगस्त 2020 को समाप्त होने वाली 5 महीने की में अवधि 24% की साल दर साल की वृद्धि दिखाई है। नए डीमैट खातों की संख्या में उल्लेखनीय वृद्धि और शेयर बाजार गतिविधियों में बढ़ोतरी भारतीय शेयर बाजार में रीटेल निवेशकों की बढ़ते हुए भागीदारी को दर्शाता है।

शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने वाले नए निवेशकों के पास फुल -सर्विस ब्रोकरेज फर्म और डिस्काउंट ब्रोकरेज फर्म यह दो विकल्प होते है।

डिस्काउंट ब्रोकरेज बनाम फुल -सर्विस ब्रोकरेज

भारतीय ब्रोकरेज उद्योग पिछले कुछ वर्षों में इन दो प्रमुख सेवाओं को प्रदान कर रही है -

डिस्काउंट ब्रोकर : एक डिस्काउंट ब्रोकर वह है जो डीमैट और ट्रेडिंग खातों की बुनियादी सेवाएं किफायती मूल्य में प्रदान करता है। यहाँ आप न केवल सब्सक्रिप्शन प्लान्स का चयन कर सकते हैं बल्कि कम ब्रोकरेज दरों का लाभ भी उठा सकते है।

फुल -सर्विस ब्रोकर : ये वित्तीय संस्थान हैं जो स्टॉक ट्रेडिंग सेवाओं जानिये कैसे Stock Broker का सही चयन करें के साथ-साथ अनुसंधान और सलाह प्रदान करते हैं। हालांकि, वे तुलनात्मक रूप से अधिक ब्रोकरेज लेते हैं जो आपके ट्रेडिंग वॉल्यूम के आनुपातिक होते हैं।

आजकल अधिकतर नए निवेशकों का डिस्काउंट ब्रोकरेज की ओर अधिक झुकाव है क्योंकि यह उनको कम मूल्य पर अधिक ट्रेड करने का मौका देता है।

ब्रोकर चुनते समय इन तथ्यों का विचार करे : ब्रोकर का चयन आपके ट्रेडिंग करने के अनुभव और ट्रेडिंग के दौरान जो ब्रोकरेज के खर्च आते हैं उसपे उल्लेखनीय प्रभाव डालेगा। नीचे कुछ महत्वपूर्ण मापदंड दिए गए हैं जिनका मूल्यांकन आप एक सही ब्रोकर को चुनने के दौरान कर सकते है।

Finance Expert:

आजकल हर कोई Market में पैसे Investment करना चाहता है और अपनी Income को डबल करना चाहता है।

हालांकि, जानकारी के अभाव में वो सही जगह निवेश यानि Investment नहीं कर पाते हैं।

बताते चलें की ऐसे में आप Internet से पहले Mutual Or Investment आदि की जानकारी ले सकते हैं और

अच्छे से समझ(Understand Well) सकते हैं कि इनमें किस तरह काम किया जाता है.

इसके बाद आप Financial Expert बनकर लोगों की निवेश करने में मदद कर सकते हैं और पैसे कमा सकते हैं..

SEO SMO की जानकारी:

आपको बता दें की Internet पर कई तरह के Social Media और SEO को लेकर कोर्स मौजूद है।

यह भी पढ़े : ISRO Recruitment 2022 : राजभाषा सहायकों की भर्ती के लिए ऑनलाइन आवेदन शुरू, घर बैठे ऐसे करें अप्लाई, 25500 सैलरी

आप Online माध्यम से ये कोर्स कर सकते हैं और Online के बढ़ते दौर में इन Skill का फायदा उठा

सकते हैं, साथ ही किसी भी Website के साथ जुड़कर उसके लिए काम कर सकते हैं और इसके लिए

Freelance काम भी किया जाता है. ऐसे में आप फ्रीलांस काम के जरिए ऐसे ऐसे कमा(Earn Money) सकते हैं।

YouTube पर वीडियो बनाना है भी है अच्छा जरिया

बताते चलें की कई ऐसे लोग हैं, जो YouTube जानिये कैसे Stock Broker का सही चयन करें के जरिए अच्छा पैसा कमा(Earn Good Money) रहे हैं।

वहीं इसके लिए आप पहले Internet पर जानकारी ले लें कि यू-ट्यूब पर वीडियो से कमाई कैसे होती है(How To

Make Money From Videos On YouTube?) और व्यूज आदि किस तरह बढ़ाए जा सकते हैं।

पूरी जानकारी लेने के बाद आप YouTube पर वीडियो अपलोड का काम शुरु कर सकते हैं और एक समय तक

आपको हर Video के हिसाब से अच्छे पैसे(Earn Good Money) मिलने लग जाते हैं।

Digital Marketing Course:

आपको बता दें की इंटरनेट पर आप डिजिटल मार्केटिंग से जुड़े कई कोर्स(Digital Marketing Course) कर

सकते हैं, हो सकता है ये कोर्स पे भी हो, ऐसे में आप ये कोर्स करके कोई JOB भी कर

सकते हैं या फिर फ्रीलांस काम(Freelance Work) भी कर सकते हैं. दरअसल, इस क्षेत्र में काफी स्कॉप है।

रेटिंग: 4.63
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 792