इस्लामाबाद, 5 नवंबर (आईएएनएस)। अन्य मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर में लगातार मजबूती के बावजूद पाकिस्तानी रुपये (पीकेआर) में मामूली सुधार दर्ज किया गया है क्योंकि इंटरबैंक बाजार में ग्रीनबैक 221.92 पीकेआर पर कारोबार कर रहा था।

सोने की कीमत में गिरावट, चांदी भी फिसली, जानें दिल्ली सर्राफा में प्रति 10 ग्राम Gold के भाव

Gold-Silver Rate Today: शेयर बाजार (Share Market) में निवेशकों का रुख ज्यादा रहने से सोने में निवेश से निवेशक पीछे हटे हैं.

इंटरनेशनल मार्केट में सोना नुकसान दिखाता हुआ 1,808 डॉलर प्रति औंस पर चल रहा था. (ज़ी बिज़नेस)

Gold-Silver Rate Today: सोने (Gold) का भाव इंटरनेशनल मार्केट में नरम होने और डॉलर के मुकाबले रुपये की विनिमय दर में सुधार के बीच दिल्ली सर्राफा बाजार में आज सोना 124 रुपये की गिरावट के साथ 46,917 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ. एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने यह जानकारी दी. सोने का पिछला बंद भाव 47,041 रुपये प्रति 10 ग्राम था. पीटीआई की खबर के मुताबिक, चांदी भी 18 रुपये की मामूली गिरावट के साथ 66,473 रुपये प्रति किलोग्राम रह गई. इसका पिछला बंद भाव 66,491 रुपये था.

दिल्ली में 24 कैरेट सोने की हाजिर कीमत में गिरावट
खबर के मुताबिक, एचडीएफसी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक (जिंस) तपन पटेल के मुताबिक, अमेरिकी जिंस बाजार में सोने की कीमतों में गिरावट और रुपये के मूल्य में सुधार आने से दिल्ली में 24 कैरेट सोने की हाजिर कीमत में 124 रुपये की गिरावट आई. विदेशी विनिमय बाजार में सुबह के कारोबार में डॉलर के मुकाबले रुपया नौ पैसे की तेजी के साथ 74.33 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ.

इंटरनेशनल मार्केट में सोना नुकसान दर्शाता 1,808 डॉलर प्रति औंस पर चल रहा था जबकि चांदी 25.47 डॉलर प्रति औंस पर करीब अपरिवर्तित थी. शेयर बाजार (Share Market) में निवेशकों का रुख ज्यादा रहने से सोने में निवेश से निवेशक पीछे हटे हैं.

एमसीएक्स पर सोना
कमजोर ग्लोबल संकेतों के बीच आज भारत में MCX पर सोना 0.16 प्रतिशत गिरकर 47926 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गया है. वहीं, चांदी 0.3 फीसदी की गिरावट के साथ 67865 रुपये प्रति किलोग्राम पर कारोबार कर रही है. पिछले सत्र में सोना करीब 400 रुपये यानी 0.75 प्रतिशत गिर गया था और चांदी की कीमतों में भी 0.5 प्रतिशत की गिरावट आई थी.

Dollar Vs Rupee : पहली बार 83 के पार पहुंचा रुपया, जानिए आज कितनी आई गिरावट

Dollar Vs Rupee : भारतीय रुपया डॉलर के मुकाबले लगातार गिरता ही जा रहा है। हालांकि हाल में एक बयान में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि रुपया नहीं गिर रहा, बल्कि डॉलर मजबूत हो होता जा रहा है। पक्ष-विपक्ष के बीच इस पर काफी बहस छिड़ी हुई है।

आज रुपया एक नए निचले स्तर पर पहुंच गया है। डॉलर के मुकाबले 61 पैसे टूटकर ये 83.01 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ, जो इसका अब तक का सबसे निचला स्तर बताया जा रहा है। ऐसा पहली बार हुआ है जब रुपया 83 के पार पहुंच गया है।

मंगलवार को भी रुपये में गिरावट का रुख देखा गया था। डॉलर के मुकाबले ये 82.36 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था। बुधवार को दोपहर में कारोबार के दौरान इसमें थोड़ी बढ़त देखी गई, लेकिन शाम होने तक इसमें गिरावट देखी जाने लगी और ये डॉलर के मुकाबले 83 रुपये के पार जाकर बंद हुआ।

बुधवार को दोपहर में कारोबार के दौरान रुपये में मामूली सुधार देखा गया, लेकिन शाम होने तक इसमें गिरावट देखी जाने लगी। कारोबार समाप्ति के वक्त ये डॉलर के मुकाबले बुरी तरह टूटा और 83 रुपये प्रति डॉलर के पार जाकर बंद हुआ।

FROM AROUND THE WEB

About Us

Chopal Tv News is for generally provide us news and other information. We will cover Haryana News and this is a platform to share information to others. Our main aim is for website starting to share knowledge and information to others. We have a team that’s work on our website and share original and डॉलर के मुकाबले रुपये में मामूली सुधार accurate information to others. We have write news or other article have full proofed and genuine.

डॉलर 80 रुपए के करीब

मुंबई। डॉलर के मुकाबले रुपए की कीमत में गिरावट का सिलसिला जारी है। गुरुवार को डॉलर के मुकाबले रुपए की कीमत में नौ पैसे की गिरावट आई, जिसके बाद एक डॉलर की कीमत 79.90 रुपए पहुंच गई। दिन के कारोबार में एक समय एक डॉलर की कीमत 79.92 रुपए हो गई थी। बाद में इसमें मामूली सुधार हुआ। डॉलर के मुकाबले रुपए की गिरावट पहले ही ऐतिहासिक स्तर को छू चुकी है। अब हर दिन होने वाली गिरावट एक नया निचला स्तर बना रही है। इससे पहले कभी रुपए की कीमत इतनी कम नहीं हुई थी।

बहरहाल, गुरुवार के कारोबार में विदेशी मुद्रा बाजार में रुपया मजबूती के साथ खुला था। सुबह एक डॉलर की कीमत 79.72 रुपए थी। यानी इसमें नौ पैसे का सुधार था। थोड़ी देर के कारोबार में यह 79.71 रुपए तक पहुंचा। लेकिन बाद में इसमें तेज गिरावट हुई और यह एक दिन पहले के मुकाबले नौ पैसा गिर कर 79.90 रुपए पर बंद हुआ। बाजार के जानकारों के मुताबिक यूरोप के देशों में शुरुआती कारोबार में दुनिया की शीर्ष छह मुद्राओं के मुकाबले डॉलर की कीमत में जबरदस्त तेजी रही। इस वजह से ही भारत में शुरुआती बढ़त के बाद रुपया तेजी से नीचे गिरा।

अनुमान लगाया जा रहा है कि बहुत जल्दी डॉलर की कीमत 80 रुपए से ज्यादा हो जाएगी और इस महीने के कारोबार में ही यह 81 रुपए तक जा सकता है। इसका कारण यह है कि अमेरिका में पिछले 40 साल में सबसे ज्यादा महंगाई है, जिसे काबू में करने के लिए ब्याज दर बढ़ाई जा सकती है। जून के महीने में अमेरिका में महंगाई की दर 9.1 पहुंच गई। इसे रोकने के लिए अमेरिका का फेडरल रिजर्व ब्याज दर में इजाफा कर सकता है। 0.75 से लेकर एक फीसदी तक के इजाफे का अनुमान है। ऐसा हुआ तो डॉलर में और मजबूती आएगी।

ध्यान रहे अमेरिका में ब्याज दर बढ़ाए जाने से भारत सहित दुनिया भर के बाजार में लगा निवेश निकल कर वापस अमेरिका जाने लगता है। वैसे भी पिछले कुछ समय से संस्थागत विदेशी निवेशक भारतीय बाजार से पैसा निकाल रहे हैं। इससे शेयर बाजार में भी उथल पुथल चल रही है। तेल आयात का भुगतान डॉलर में होने की वजह से भी भारत के विदेशी मुद्रा भंडार पर दबाव बढ़ रहा है।

डॉलर के मुकाबले रुपये में मामूली सुधार

मजबूत अमेरिकी डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपया बढ़ा

मजबूत अमेरिकी डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपया बढ़ा

मजबूत अमेरिकी डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपया बढ़ा

इस्लामाबाद, 5 नवंबर (आईएएनएस)। अन्य मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर में लगातार मजबूती के बावजूद पाकिस्तानी रुपये (पीकेआर) में मामूली सुधार दर्ज किया गया है क्योंकि इंटरबैंक बाजार में ग्रीनबैक 221.92 पीकेआर पर कारोबार कर रहा था।

स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान द्वारा शुक्रवार को प्रकाशित आंकड़ों से यह भी पता चला है कि अमेरिकी डॉलर गुरुवार को 221.95 पीकेआर पर बंद हुआ था और अंतिम कार्य दिवस पर स्थानीय मुद्रा 0.03 पीकेआर, या लगभग 0.01 प्रतिशत, अमेरिकी डॉलर के मुकाबले बढ़ी।

बाजार विश्लेषकों के अनुसार, सरकारी अधिकारियों की सख्त निगरानी से स्थानीय मुद्रा में स्थिरता आई है।

इसके अतिरिक्त, विश्लेषकों ने विनाशकारी मानसून डॉलर के मुकाबले रुपये में मामूली सुधार बाढ़ के बीच दक्षिण एशियाई देश को अपने पुनर्वास प्रयासों में मदद करने के लिए एशियाई विकास बैंक से 1.5 अरब डॉलर की प्राप्ति के बाद देश के विदेशी मुद्रा भंडार में वृद्धि के लिए रुपये के लाभ को जिम्मेदार डॉलर के मुकाबले रुपये में मामूली सुधार ठहराया।

मजबूत अमेरिकी डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपया बढ़ा

pic

इस्लामाबाद | अन्य मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर में लगातार मजबूती के बावजूद पाकिस्तानी रुपये (पीकेआर) में मामूली सुधार दर्ज किया गया है क्योंकि इंटरबैंक बाजार में ग्रीनबैक 221.92 पीकेआर पर कारोबार कर रहा था। स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान द्वारा शुक्रवार को प्रकाशित आंकड़ों से यह भी पता चला है कि अमेरिकी डॉलर गुरुवार को 221.95 पीकेआर पर बंद हुआ था और अंतिम कार्य दिवस पर स्थानीय मुद्रा 0.03 पीकेआर, या लगभग 0.01 प्रतिशत, अमेरिकी डॉलर के मुकाबले बढ़ी।

बाजार विश्लेषकों के अनुसार, सरकारी अधिकारियों की सख्त निगरानी से स्थानीय मुद्रा में स्थिरता आई है।

इसके अतिरिक्त, विश्लेषकों ने विनाशकारी मानसून बाढ़ के बीच दक्षिण एशियाई देश को अपने पुनर्वास प्रयासों में मदद करने के लिए एशियाई विकास बैंक से 1.5 अरब डॉलर की प्राप्ति के बाद देश के विदेशी मुद्रा भंडार में वृद्धि के लिए रुपये के लाभ को जिम्मेदार ठहराया।

रेटिंग: 4.56
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 572