Gold-Silver Rate: सोने-चांदी के भाव औंधे मुंह गिरे, 10 ग्राम गोल्ड की ये है करेंट प्राइस

Gold-Silver Rate: चांदी की कीमत भी 339 रुपये लुढ़ककर 61,477 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई. पिछले कारोबारी सत्र में यह 61,816 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई थी. अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने का भाव गिरावट के साथ 1,799 डॉलर प्रति औंस रह गया

पिछले कारोबारी सत्र में सोना (Gold rate today in delhi) 47,962 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था.

Gold-Silver Rate: सोने और चांदी की कीमत में बुधवार को गिरावट देखी गई. कमजोर वैश्विक कीमतों के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी के सर्राफा बाजार में बुधवार को सोना (Gold) 125 रुपये की गिरावट के साथ 47,837 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ. पीटीआई की खबर के मुताबिक, एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने यह जानकारी दी. पिछले कारोबारी सत्र में सोना (Gold औंधेमुंह गिरे अमेरिकी शेयर बाजार rate today in delhi) 47,962 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था. चांदी की कीमत भी 339 रुपये लुढ़ककर 61,477 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई. पिछले कारोबारी सत्र में यह 61,816 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई थी. अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने का भाव गिरावट के साथ 1,799 डॉलर प्रति औंस रह औंधेमुंह गिरे अमेरिकी शेयर बाजार गया, जबकि चांदी 22.67 डॉलर प्रति औंस पर करीब स्थिर रही.

सोने की कीमतों में गिरावट
खबर के मुताबिक, एचडीएफसी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक (जिंस) तपन पटेल ने कहा कि न्यूयॉर्क स्थित जिंस एक्सचेंज कॉमेक्स में बुधवार को हाजिर सोना गिरावट के साथ 1,799 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रहा था, जिससे सोने की कीमतों में गिरावट रही. सोने का भाव गिरावट के साथ 1,800 डॉलर प्रति औंस से नीचे चल रहा था और कारोबारियों को अमेरिकी एफओएमसी की बैठक के बाद आने वाले ताजा संकेतों का इंतजार है.

सोना वायदा कीमतों में गिरावट
कमजोर हाजिर मांग के बीच सटोरियों ने अपने सौदों के आकार को घटाया जिससे स्थानीय वायदा बाजार में बुधवार को सोने का भाव 273 रुपये की गिरावट के साथ 47,692 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गया. मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (MCX) में फरवरी महीने की डिलिवरी के लिए सोने की कीमत 273 रुपये यानी 0.57 प्रतिशत की गिरावट के साथ 47,692 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गई. इसमें 131 लॉट के औंधेमुंह गिरे अमेरिकी शेयर बाजार लिए कारोबार हुआ. बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कारोबारियों द्वारा अपने सौदों की कटान करने से सोना वायदा कीमतों में गिरावट आई. वैश्विक स्तर पर न्यूयॉर्क में सोने की कीमत 0.28 प्रतिशत की गिरावट के साथ 1,796.50 डॉलर प्रति औंस रह गई.

Zee Business Hindi Live TV यहां देखें

चांदी की वायदा कीमतों में तेजी
मजबूत हाजिर मांग के चलते कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को बढ़ाया, जिससे वायदा कारोबार में बुधवार को चांदी की कीमत 168 रुपये की तेजी के साथ 61,526 रुपये प्रति किलो हो गई. मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में चांदी के मार्च महीने में डिलिवरी वाले वायदा करार का भाव 168 रुपये यानी 0.27 प्रतिशत तेजी के साथ 61,526 रुपये प्रति किलो हो गया. इसमें 13,476 लॉट के लिए सौदे किए गए. बाजार विश्लेषकों ने कहा कि चांदी वायदा कीमतों में तेजी आने का मुख्य वजह घरेलू बाजार में तेजी के रुख के बीच कारोबारियों द्वारा ताजा सौदों की लिवाली करना था. वैश्विक स्तर पर, न्यूयॉर्क में चांदी का भाव 0.35 प्रतिशत की तेजी के साथ 22.68 डालर प्रति औंस हो गया.

हिमाचल-गुजरात के रुझानों से औंधे मुंह गिरा शेयर बाजार, 800 से ज्यादा अंकों की गिरावट दर्ज

औंधेमुंह गिरे अमेरिकी शेयर बाजार sensex

गुजरात में भाजपा को कांग्रेस से मिल रही कांटे की टक्कर से शेयर बाजार बुरी तरह से लड़खड़ा गया। सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ही में बड़ी गिरावट देखने को मिली। बीएसई का सेंसेक्स 803 अंक गिर गया, वहीं निफ्टी में भी 200 अंक लुढ़क गया।

मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में भी बिकवाली हावी हुई है। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 2 फीसदी गिरा है, जबकि निफ्टी के मिडकैप 100 इंडेक्स में 2.3 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स करीब 2.5 फीसदी टूट गया है।

शेयर बाजार में इस सप्ताह कारोबार का रुख गुजरात व हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजों से तय होगा। विशेषज्ञों के मुताबिक, निवेशक वैश्विक कारकों जैसे अमेरिका में कर सुधार तथा कच्चे तेल की कीमतों पर भी नजर गड़ाए हुए हैं।

इन शेयरों में भी गिरावट
निफ्टी पर आईटी इंडेक्स में 1.36 फीसदी, फार्मा इंडेक्स में 1.25 फीसदी, एफएमसीजी इंडेक्स में 1.65 फीसदी, ऑटो इंडेक्स में 1.86 फीसदी और पीएसयू बेंक इंडेक्स में 2.39 फीसदी व प्राइवेट बैंक इंडेक्स में 1.93 फीसदी की गिरावट है।

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने बताया कि अगर नतीजे एग्जिट पोल के हिसाब से नहीं आते हैं, तो इसका निकट से मध्यम काल में बाजार के रुझान पर नकारात्मक असर पड़ेगा। चुनाव के नतीजों के अलावा, बाजार का रुख वैश्विक संकेतों तथा अमेरिकी कर सुधारों से भी तय होगा।

एग्जिट पोल के अनुसार, दोनों राज्यों में भाजपा की सरकार बनती दिख रही है। कोटक सिक्योरिटीज के वाइस प्रेसिडेंट पीसीजी रिसर्च टीना विरमानी ने बताया कि बाजार का रुख चुनाव नतीजों के साथ संसद के शीतकालीन सत्र से भी तय होगा।

गुजरात में भाजपा को कांग्रेस से मिल रही कांटे की टक्कर से शेयर बाजार बुरी तरह से लड़खड़ा गया। सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ही में बड़ी गिरावट देखने को मिली। बीएसई का सेंसेक्स 803 अंक गिर गया, वहीं निफ्टी में भी 200 अंक लुढ़क गया।

मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में भी बिकवाली हावी हुई है। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 2 फीसदी गिरा है, जबकि निफ्टी के मिडकैप 100 इंडेक्स में 2.3 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स करीब 2.5 फीसदी टूट गया है।

शेयर बाजार में इस सप्ताह कारोबार का रुख गुजरात व हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजों से तय होगा। विशेषज्ञों के मुताबिक, निवेशक वैश्विक कारकों जैसे अमेरिका में कर सुधार तथा कच्चे तेल की कीमतों पर भी नजर गड़ाए हुए हैं।

इन शेयरों में भी गिरावट
निफ्टी पर आईटी इंडेक्स में 1.36 फीसदी, फार्मा इंडेक्स में 1.25 फीसदी, एफएमसीजी इंडेक्स में 1.65 फीसदी, ऑटो इंडेक्स में 1.86 फीसदी और पीएसयू बेंक इंडेक्स में 2.39 फीसदी व प्राइवेट बैंक इंडेक्स में 1.93 फीसदी की गिरावट है।

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने बताया कि अगर नतीजे एग्जिट पोल के हिसाब से नहीं आते हैं, तो इसका निकट से मध्यम काल में बाजार के रुझान पर नकारात्मक असर पड़ेगा। चुनाव के नतीजों के अलावा, बाजार का रुख वैश्विक संकेतों तथा अमेरिकी कर सुधारों से भी तय होगा।

एग्जिट पोल के अनुसार, दोनों राज्यों में भाजपा की सरकार बनती दिख रही है। कोटक सिक्योरिटीज के वाइस प्रेसिडेंट पीसीजी रिसर्च टीना विरमानी ने बताया कि बाजार का रुख चुनाव नतीजों के साथ संसद के शीतकालीन सत्र से भी तय होगा।

शेयर मार्केट में 1500 अंक की बड़ी गिरावट, निफ्टी भी 373 अंक टूटा

मंबई। हफ्ते के पहले कारोबारी दिन सोमवार (Monday) को शेयर बाजार (Share Market) खुलने के साथ ही औंधे मुंह धड़ाम हो गया। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स जहां 1200 अंक टूटकर खुला, वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी सूचकांक ने 16,000 के स्तर के नीचे कारोबार शुरू किया। फिलहाल, सेंसेक्स 1315 अंक फिसलकर कारोबार कर रहा है, तो निफ्टी 15,833 के स्तर पर आ गया है।

इससे पहले बीते सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन शुक्रवार को शेयर बाजार गिरावट के साथ खुलकर अंत में जोरदार गिरावट के साथ लाल निशान पर बंद हुआ था। बीएसई का सेंसेक्स 1017 अंक फिसलकर 54,303 के स्तर पर बंद हुआ था, जबकि एनएसई का निफ्टी 276 अंक की कमी के साथ 16,202 के स्तर पर बंद हुआ था।

यह भी पढ़ें | एक हफ्ते में निफ्टी-सेंसेक्स एक फीसदी चढ़े, जानिए अब बाजार को किस ‘संजीवनी’ का है इंतजार?

LIC Stock पर इन्वेस्टर्स की निगाहें

बहुप्रतीक्षित आईपीओ के बाद सरकारी बीमा कंपनी LIC का शेयर बाजार पर बुरा हाल बना हुआ है, कंपनी पहले ही अपने आईपीओ के इन्वेस्टर्स को 1.66 लाख करोड़ रुपये का नुकसान कर चुकी है। आज शुरुआती कारोबार में ही इस स्टॉक का भाव करीब 3.15 फीसदी टूटकर 700 रुपये से भी नीचे आ चुका है, दरअसल आज एलआईसी आईपीओ के एंकर इन्वेस्टर्स के लिए लॉक-इन पीरियड समाप्त हो रहा है। अभी तक जिस हिसाब से इसका शेयर गिरा है, पहले से ही इस बात की आशंका थी कि लॉक-इन समाप्त होते ही एंकर इन्वेस्टर्स बिकवाल हो जाएंगे।

अमेरिका में रिकॉर्ड महंगाई का प्रेशर

आज के कारोबार में घरेलू बाजार पर ग्लोबल मार्केट की गिरावट का भी दबाव है. अमेरिका में महंगाई और बढ़कर करीब 40 साल के उच्च स्तर पर पहुंच गई है, दूसरी ओर महंगी होती ब्याज दरों के कारण इकोनॉमिक ग्रोथ की रफ्तार सुस्त पड़ रही है। इन कारणों से अमेरिका में जल्दी ही मंदी का दौर शुरू होने की आशंका है। इनके कारण पिछले सप्ताह शुक्रवार अमेरिकी बाजार में भारी गिरावट देखने को मिली औंधेमुंह गिरे अमेरिकी शेयर बाजार थी, डाउ जोन्स इंडस्ट्रियल एवरेज (Dow Jones Indutrial Average) 2.73 फीसदी, नास्डैक कंपोजिट (Nasdaq Composite) 3.52 फीसदी और एसएंडपी 500 (S&P 500) 2.91 फीसदी के नुकसान में रहा था। आज एशियाई बाजारों में भी भारी बिकवाली हो रही है, जापान का निक्की (Nikkei) 2.77 फीसदी के नुकसान के साथ कारोबार कर रहा है, हांगकांग का हैंगसेंग (Hangseng) 2.66 फीसदी और चीन का शंघाई कंपोजिट (Shanghai Composite) 1.11 फीसदी के नुकसान में है।

Gold Price Today: औंधे मुंह गिरे सोने के दाम, अब 30,000 से भी कम में खरीदें 10 ग्राम

Gold Price Update

Gold Price Today: सोना या फिर चांदी के गहने खरीदने का प्लान कर रहे लोगों के लिए अच्छी खबर है। पिछले कई दिनों से सोने-चांदी की कीमत में जारी उतार-चढ़ाव के बीच इस कारोबारी हफ्ते के पहले दिन आज भारतीय सर्राफा बाजार में जहां सोना सस्ता हुआ है वहीं चांदी की कीमत में तेजी देखी जा रही है।

आज सोना 219 रुपये की दर से सस्ता हुआ है, जबकि चांदी की कीमत में 376 रुपये की तेजी देखी जा रही है। इसके बाद सोना फिलहाल 51000 रुपये और चांदी 55000 रुपये के करीब बिक रही है। इसके साथ ही ऑलटाइम हाई से सोना 5500 रुपये प्रति 10 ग्राम और चांदी करीब 24900 रुपये प्रति किलो की दर से भी सस्ता मिल रही है।

IBJA पर सोना और चांदी का हाल

– इंडियन बुलियन ज्वैलर्स एसोशिएशन (IBJA) की बेवसाइट के अनुसार इस कारोबारी हफ्ते के पहले दिन सोमवार (12 September) को सोना (Gold Price Update) 219 रुपये प्रति दस ग्राम की दर से सस्ता होकर 50658 रुपये प्रति दस ग्राम के स्तर पर खुला। जबकि पिछले कारोबारी दिन शुक्रवार को सोना (Gold Price) 25 रुपये प्रति दस ग्राम की दर से सस्ता होकर 50877 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुआ था।

– वहीं आज चांदी (Silver Price Update) 376 रुपये प्रति किलो की दर से महंगा होकर 55076 रुपये के स्तर पर खुली। जबकि पिछले कारोबारी दिन शुक्रवार को चांदी (Silver Price) 380 रुपये महंगा होकर 54700 रुपये प्रति किलो पर बंद हुई थी।

MCX पर सोने-चांदी के रेट

इंडियन बुलियन ज्वैलर्स एसोशिएशन (IBJA) की तरह मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (MCX) पर आज सोना गिरावट तो चांदी तेजी के साथ कारोबार कर रहा है। एमसीएक्स पर आज सोना 77 रुपये की औंधेमुंह गिरे अमेरिकी शेयर बाजार औंधेमुंह गिरे अमेरिकी शेयर बाजार दर से सस्ता होकर 50,452 रुपये के स्तर पर है। जबकि चांदी 383 रुपये की तेजी के साथ 55,433 रुपये के स्तर पर ट्रेड कर रही है।

ऑलटाइम हाई से सोना 5500 और चांदी 24900 रुपये मिल रहा है सस्ता

इस गिरावट के बाद फिलहाल सोना अपने ऑलटाइम हाई से करीब 5542 रुपये प्रति 10 ग्राम रुपये सस्ता बिक रहा है। सोने ने अपना ऑलटाइम हाई अगस्त 2020 में बनाया था। उस वक्त सोना 56,200 रुपये प्रति दस ग्राम के स्तर तक चला गया था। वहीं चांदी अपने उच्चतम स्तर से करीब 24094 रुपये प्रति किलो की दर से सस्ता मिल रहा था। चांदी का अबतक का उच्चतम स्तर 79980 रुपये प्रति किलो है। ऐसे में जो लोग सोना या फिर चांदी खरीदने का मन बना रहे हैं, उनके लिए खरीदारी का यह अच्छा मौका साबित हो सकता है।

14 से 24 कैरेट Gold Price

इस तरह आज 24 कैरेट सोना का ताजा भाव 50658 रुपये प्रति 10 ग्राम, 23 कैरेट वाला सोना 50456 रुपये प्रति 10 ग्राम, 22 कैरेट वाला सोना 46402 रुपये प्रति 10 ग्राम, 18 कैरेट वाला सोना 37993 रुपये प्रति 10 ग्राम और 14 कैरेट वाला सोना लगभग 29635 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर ट्रेड कर रहा है।

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में सोने-चांदी के हाल

भारतीय सर्राफा बाजार की तरह अंतर्राष्ट्रीय बाजार में भी आज सोना गिरावट और चांदी तेजी के साथ कारोबार कर रहा है। अमेरिका में सोने का कारोबार 4.24 डॉलर की गिरावट के साथ 1,714.03 डॉलर प्रति औंस के रेट पर ट्रेड हो रहा है। वहीं चांदी का कारोबार 0.05 डॉलर की तेजी के साथ 18.98 डॉलर प्रति औंस के स्तर पर ट्रेड हो रहा है।

देश के बड़े शहरों में Gold Price और Silver Price

दिल्ली (Delhi) – 22ct Gold : Rs. 46900, 24ct Gold : Rs. 51150, Silver Price : Rs. 55200

मुंबई (Mumbai) – 22ct Gold : Rs. 46750, 24ct Gold : Rs. 51000, Silver Price : Rs. 55200

कोलकाता (Kolkata) – 22ct Gold : Rs. 46750, 24ct Gold : Rs. 51000, Silver Price : Rs. 55200

चेन्नई (Chennai) – 22ct Gold : Rs. 47250, 24ct Gold : Rs. 51550, Silver Price : Rs. 60500

हैदराबाद (Hyderabad) – 22ct Gold : Rs. 46750, 24ct Gold : Rs. 51000, Silver Price : Rs. 60500

बंगलुरु (Bangalore) – 22ct Gold : Rs. 46800, 24ct Gold : Rs. 51050, Silver Price : Rs. 60500

मंगलुरु (Mangalore) – औंधेमुंह गिरे अमेरिकी शेयर बाजार 22ct Gold : Rs. 46800, 24ct Gold : Rs. 51050, Silver Price : Rs. 60500

अहमदाबाद (Ahmedabad) – 22ct Gold : Rs. 46800, 24ct Gold : Rs. 51050, Silver Price : Rs. 55200

सूरत (Surat) – 22ct Gold : Rs. 46800, 24ct Gold : Rs. 51050, Silver Price : Rs. 55200

नागपुर (Nagpur) – 22ct Gold : Rs. 46780, 24ct Gold : Rs. 51030, Silver Price : Rs. 55200

पुणे (Pune) – 22ct Gold : Rs. 46780, 24ct Gold : Rs. 51030, Silver Price : Rs. 55200

भुवनेश्वर (Bhubaneswar) – 22ct Gold : Rs. 46750, 24ct Gold : Rs. 51000, Silver Price : Rs. 60500

चंडीगढ़ (Chandigarh) – 22ct Gold : औंधेमुंह गिरे अमेरिकी शेयर बाजार Rs. 46900, 24ct Gold : Rs. 51150, Silver Price : Rs. 55200

जयपुर (Jaipur) – 22ct Gold : Rs. 46900, 24ct Gold : Rs. 51150, Silver Price : Rs. 55200

लखनऊ (Lucknow) – 22ct Gold : Rs. 46900, 24ct Gold : Rs. 51150, Silver Price : Rs. 55200

पटना (Patna) – 22ct Gold : Rs. 46780, 24ct Gold : Rs. 51030, Silver Price : Rs. 55200

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

ओमिक्रॉन का डर! शेयर बाज़ार औंधे मुंह, सेंसेक्स 1583 अंक गिरा

सत्य हिंदी ऐप डाउनलोड करें

दुनिया भर में ओमिक्रॉन वैरिएंट के खौफ के बीच आज भारतीय शेयर बाजारों में बड़ी गिरावट आई। दोपहर 12:30 बजे तक तो सेंसेक्स में 1583 अंक की गिरावट आ गई और यह 55427 पर पहुँच गया। यह 2.78 फ़ीसदी की गिरावट रही। निफ़्टी में भी क़रीब 2 फ़ीसदी की गिरावट आई और यह क़रीब 16600 पर पहुँच गया। एक रिपोर्ट के अनुसार, दो दिनों में निवेशकों के ₹11 लाख औंधेमुंह गिरे अमेरिकी शेयर बाजार करोड़ से अधिक का नुक़सान हुआ है।

रुपया भी अमेरिकी डॉलर के मुक़ाबले गिरा है। सोमवार को शुरुआती सौदों में अमेरिकी डॉलर के मुक़ाबले रुपया 9 पैसे गिरकर 76.15 पर पहुँच गया था।

समझा जाता है कि इस गिरावट की सबसे बड़ी वजह ओमिक्रॉन वैरिएंट का संक्रमण है। दुनिया भर में ओमिक्रॉन मामलों में वृद्धि के कारण आर्थिक सुधार के पटरी से उतरने का ख़तरा है। इसी ने बाज़ार की धारणा को प्रभावित किया।

यूरोप के कुछ हिस्सों में ओमिक्रॉन के तेजी से फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन जैसे उपाए किए जा रहे हैं। इससे निवेशकों पर नकारात्मक असर पड़ रहा है। यूरोपीय देश नीदरलैंड में रविवार को लॉकडाउन लगाया गया और क्रिसमस से पहले कई और देशों में कोरोना प्रतिबंध लगाए जाने की आशंका है।

अमेरिका के शीर्ष स्वास्थ्य अधिकारी एंथनी फाउची ने कुछ घंटे पहले ही कहा है कि दुनिया भर में अभी तो ओमिक्रॉन वैरिएंट बढ़ना शुरू ही हुआ है।

ब्रिटेन में ओमिक्रॉन वैरिएंट के 25 हज़ार से ज़्यादा मामले सामने आ चुके हैं। वहाँ दूसरे वैरिएंट के पॉजिटिव केस भी आ रहे हैं। अब तो इंग्लैंड में संक्रमण इतना ज़्यादा फैला है कि वहाँ हर रोज़ संक्रमण के मामले रिकॉर्ड स्तर पर आ रहे हैं।

ब्रिटेन में हर रोज़ कोरोना के 90 हज़ार से ज़्यादा पॉजिटिव केस आने लगे हैं। दूसरे यूरोपीय देश और अमेरिका में भी संक्रमण के मामले काफ़ी ज़्यादा आने लगे हैं।

ओमिक्रॉन की चिंताओं के बीच ही वैश्विक बाज़ार में गिरावट देखी गई। दुनिया भर के बाज़ारों के साथ ही एशियाई बाज़ार भी नीचे की ओर रहे। इस सबका भारत के सेंसेंक्स और निफ्टी पर भी असर पड़ा। आर्थिक मामलों के जानकार गिरावट की एक और वजह बताते हैं। उनका मानना है कि दुनिया भर के केंद्रीय बैंक आक्रामक रुख अपनाए हुए हैं और अपनी नीतियों को कड़ा कर दिया है। कई देशों के केंद्रीय बैंकों ने इंटरेस्ट रेट बढ़ा दिया है।

'लाइव मिंट' से बातचीत में स्वास्तिका इन्वेस्टमार्ट लिमिटेड के शोध औंधेमुंह गिरे अमेरिकी शेयर बाजार प्रमुख संतोष मीणा ने कहा कि भारतीय बाज़ारों में बिकवाली फेडरल रिज़र्व का आक्रामक रुख, रुपये की कमजोरी और एफआईआई द्वारा लगातार बिकवाली की वजह से भी है। उन्होंने कहा कि 'वैश्विक बाजार भी अस्थिर हो रहे हैं और कमजोरी दिखा रहे हैं जिससे भारतीय इक्विटी बाजार में अस्थिरता भी हो सकती है। ओमिक्रॉन वैरिएंट के मामले तेज़ी से बढ़ रहे हैं और कई देशों ने कुछ तरह के प्रतिबंध के क़दम उठाने शुरू कर दिए हैं जिससे बाजार की धारणा भी आहत हो रही है।'

रेटिंग: 4.45
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 377