JNU Times

Upstox के साथ अपना ऑनलाइन Free Demat Account कैसे खोलें? पूरी जानकारी विस्तार से

How To Open Your Free Demat Account With Upstox? full details in detail

How To Open New Trading & Demat Account Online Upstox: अपस्टॉक्स एक स्टॉक ब्रोकर है जो आपका ऑनलाइन ट्रेडिंग और डीमैट अकाउंट खोलती है।

  • ऑनलाइन डीमैट अकाउंट खोलने का डायरेक्ट लिंक यहUpstox का है।
  • ट्रेडिंग और डीमैट अकाउंट खोलने में लाइव सहायता पाने के लिए ईमेल करें। ([email protected])

Upstox के साथ डीमैट अकाउंट खोलने के फायदे

  • सबसे पहला फायदा इसमें आपका अकाउंट फ्री में खुलता है वहीं बाकी ब्रोकर आपका डीमैट खाता खोलने के लिए आपसे कुछ फीस लेते है।
  • Upstox के साथ आप Online घर बैठे ही अपना ट्रेडिंग और डीमैट खाता खोल सकते है आपको कहीं जाने की जरूरत नहीं होती।
  • आप Upstox की ऑनलाइन वेबसाइट और ऐप से शेयर खरीदना और बेचना इसके अलावा आप आईपीओ, म्यूचुअल फंड, कमोडिटी और करेंसी में निवेश कर सकते है।

Upstox Trading & Demat Account कैसे खोलें?

इसके बाद आपको नीचे फोटो जैसा पेज दिखेगा उसमे आपको अपना मोबाइल नंबर डालकर Start Investing पर क्लिक करना है।

अब आपको अपना मोबाइल नंबर डालना है और इसपर आया ओटीपी डालना है।

अब जैसे UPI में रहता है वैसा ही आपको छः अंको का एक पिन बना लेना है और उसे डालने के बाद Continue पर क्लिक करना है। और उसके बाद आपको अपना वही पिन दुबारा डालना है।

जब आप अपना पिन सेट कर लेंगे उसके बाद आपको अपना ईमेल ऐड्रेस डालना है।

जब आप अपना ईमेल पता वेरिफाई कर लेते है तब आगे आपको नीचे दिया गया पेज दिखेगा अगर आपके पास पैन कार्ड है तो उसपर क्लिक करें और Continue पर क्लिक करें।

अब आप अपना पैन कार्ड नंबर और जन्मतिथि डालकर Next पर क्लिक करें।

अब आपसे कुछ जानकारी मांगी जाएगी उसे आप अपने हिसाब से डाल दें आपका जेंडर क्या है, आपकी शादी हुई है या नही, आपकी वार्षिक आय कितनी है और भी कुछ सवाल आपसे पूंछे जायेंगे जिनका आपको जवाब देना हैं।

अपने पते (Address) विवरण को देखें यदि वो सही है तो ठीक वरना No I Won’t Edit Them पर क्लिक करके अपना सही पता लिखें। अगर आपका पता सही है तो Yes These Details Are Currect पर क्लिक करें।

आपके बैंक खाता खुलवाते समय या पैन कार्ड बनवाते समय जो हस्ताक्षर किए थे उनमें से एक साइन यहां कर दें।

आपको इस फोटो में से Connect Now पर क्लिक करना है।

अब आपको Allow पर क्लिक करके अनुमति देनी है और बाद में Proceed पर क्लिक करना है।

अब आपको डीजी लॉकर को एक बार फिर से अनुमति देनी होगी।

अब आपको अपना एक फोटो खींचना है आप किसी दीवार के सामने खड़े होकर अपना फोटो खींच सकते है और उसे अपलोड कर दें।

अब आपको अपनी बैंक की पासबुक से अपना सही सही बैंक खाता विवरण दर्ज कर दें। अपना नाम, आईएफएससी कोड, अकाउंट नंबर, और अकाउंट टाइप सभी सही सही लिखें।

इसमें आपको Sign Up Free पर क्लिक करके Continue पर क्लिक करना है।

आप अगर नए है तो उसे छोड़ भी सकते है क्योंकि शुरुआत में आपको इसकी ज्यादा जानकारी नहीं होगी। आप I Will Do To Letter पर क्लिक करें।

अगर आपको कुछ हो जाए तो आपके अकाउंट में पड़े शेयर किसको मिलेंगे नॉमिनी को ही मिलेंगे उसके लिए आपको 3 Nominees चुनने का Option मिलेगा आप उनकी सही जानकारी डाल सकते हैं और आप इसे छोड़ भी सकते हैं। आप I’ll Do It Letter पर क्लिक करके इसे छोड़ सकते हैं।

इस प्रक्रिया में आप के आधार कार्ड से लिंक हुए मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा जैसे आपको डालना होगा।

अब आपके अकाउंट खोलने की पूरी प्रक्रिया कर ली है अगर आपने सब कुछ सही डाला होगा तो आपका खाता 2 से 3 दिन में शुरू कर दिया जाएगा।

डीमैट अकाउंट और ट्रेडिंग अकाउंट ऑनलाइन खोलने से जुड़ी किसी भी समस्या के लिए हमें ईमेल जरूर करें हम आपको समस्या का हल जरूर निकलेंगे। ([email protected])

स्टॉक मार्केट की लेटेस्ट खबरें जानने के लिए हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कर लें।

शेयर बाजार में निवेश करना चाहते हैं, तो जरूरी है Demat Account होना, जानें कैसे खुलता है, क्या होता है चार्ज

How to open a Demat Account : डीमैट खाता खोलने की प्रक्रिया बहुत आसान होती है. इसके लिए सबसे पहले आपको एर फॉर्म ऑनलाइन भरना होता है. जिसके बाद ई वेरिफिकेशन होता है. ये प्रोसेस पूरी होते ही आपका डीमैट खाता खुल जाता है.

शेयर बाजार में निवेश करना चाहते हैं, तो जरूरी है Demat Account होना, जानें कैसे खुलता है, क्या होता है चार्ज

Demat Account : शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने के लिए जरूरी है डीमैट अकाउंट. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

शेयर बाजार में ट्रेडिंग (Share Market Trading) कर पैसा बहुत से लोग बनाना चाहते हैं लेकिन शेयर्स खरीदने और बेचने के लिए जिस डीमैट अकाउंट की जरूरत होती है, उसके बारे में कम ही जानकारी होती है. डीमैट अकाउंट कैसे काम करता है, इस खाते को खोलने के लिए जरूरी कागजात कौन से होते हैं और कितनी फीस डीमैट खाते को खोलने के लिए खर्च करनी पड़ती है. ऐसे बहुत सारे सवालों के जवाब हम आपको इस खबर की मदद से दे रहे हैं क्योंकि शेयर ट्रेडिंग के लिए डीमैट अकाउंट होना जरूरी है, इसके बिना ट्रेडिंग नहीं की जा सकती है.

तो आइए जानते हैं डीमैट खाते से जुड़ी हर जरूरी जानकारी.

क्या होता है डीमैट खाता

यह भी पढ़ें

जिस तरह से बैंक अकाउंट होता है. इसी तरह से डीमैट अकाउंट भी बैंक खाते की तरह काम करता है. शेयर बाजार को रेगुलेट करने वाली संस्था SEBI के साफ निर्देश हैं कि बिना डीमैट खाते के शेयरों को किसी भी अन्य तरीके से खरीदा और बेचा नहीं जा सकता है.

डीमैट खाते की सबसे अच्छी बात होती है ये जीरो अकाउंट बैलेंस के साथ भी खोला जा सकता है. इसमें मिनिमम बैलेंस रखने की जरूरत नहीं होती है. शेयर बाजार में निवेश के लिए निवेशक के पास बैंक अकाउंट, ट्रेडिंग अकाउंट और डीमैट खाता होने चाहिए क्योंकि डीमैट खाते में आप शेयरों को डिजिटल रूप से अपने पास रख सकते है. तो वहीं ट्रेडिंग अकाउंट से मदद से शेयर, म्युचुअल फंड और गोल्ड में निवेश किया जा सकता है.

कैसे खोलें डीमैट खाता

- शेयरों में ऑनलाइन निवेश करने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी डीमैट खाता होता है. आप इसे HDFC सिक्योरिटीज, ICICI डायरेक्ट, Axis डायरेक्ट जैसे किसी भी ब्रोकरेज के पास खुलवा सकते हैं.

- ब्रोकरेज फर्म का फैसला लेने के बाद आप उसकी वेबसाइट पर जाकर डीमैट अकाउंट ओपन करने का फॉर्म सावधानी से भरने के बाद उसकी KYC प्रोसेस को पूरा करें.

- KYC के लिए फोटो आईडी प्रूफ, एड्रेस प्रूफ के लिए डॉक्यूमेंट की जरूरत पड़ेगी. जब ये प्रोसेस पूरी हो जाएगा तो उसके बाद इन-पर्सन वेरिफिकेशन होगा. संभव है जिस फर्म से आप डीमैट अकाउंट खुलवा रहे हों, वो अपने सर्विस प्रोवाइडर के दफ्तर आपको बुलवाएं.

- इस प्रोसेस को पूरा होने के बाद आप ब्रोकरेज फर्म के साथ टर्म ऑफ एग्रीमेंट साइन करते है. ऐसा करने के बाद आपका डीमैट अकाउंट खुल जाता है.

- फिर आपको डीमैट नंबर और एक क्लाइंट आईडी दी जाएगी.

कौन खोलेगा डीमैट खाता

इंडिया में डीमैट खाता खोलने का काम दो संस्थाएं करती है. जिसमें पहली है NSDL (National Securities Depository Limited) और दूसरी है CDSL (central securities depository limited). 500 से अधिक एजेंट्स इन depositories के लिए काम करते है, जिनको आम भाषा में डीपी भी कहा जाता है. इनका काम डीमैट अकाउंट खोलना होता है.

जरूरी शर्तें

डीमैट अकाउंट खोलने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी शर्त होती है कि जो व्यक्ति शेयर ट्रेडिंग के लिए डीमैट अकाउंट खुलवा रहा हो उसकी उम्र 18 साल से ज्यादा होनी चाहिए. साथ ही इसके लिए उस व्यक्ति के पास पैन कार्ड, बैंक अकाउंट आइडेंटिटी और एड्रेस प्रूफ होना जरूरी है.

डीमैट अकाउंट क्या है, इसके प्रकार और Demat Account खोलने की प्रक्रिया 2022

जब कुछ साल पहले आप किसी कंपनी के शेयर खरीदते थे, तो वो कंपनी आपको उन शेयर से जुड़े कुछ कागज़ात भेजती थी। वो कागज़ इस बात का सबूत होते थे की आपने उस कंपनी में निवेश किया है, कंपनी में शेयर खरीद रखें है पर Demat Account के आगमन के बाद से सब बदल सा गया है।

अब किसी भी कंपनी में शेयर खरीदने के बाद यानि किसी कंपनी में निवेश करने पर आपको जो सर्टिफिकेट और आपके शेयर की जानकारी इसी डीमैट अकाउंट के द्वारा दी जाती है। आप अपने मोबाइल में डीमैट अकाउंट लॉगिन करके ऑनलाइन सारी जानकारी देख सकते हैं। आइये जानते हैं, इसकी पूरी जानकरी विस्तार से.

आखिर ये डीमैट अकाउंट क्या है और ये इतना जरुरी क्यूँ है ?

जब कोई पहली बार बॉन्ड, स्टॉक, शेयर या सम्बंधित अन्य चीजों में निवेश करने का डीमैट अकाउंट कैसे खोलें पूरी जानकारी निर्णय लेते हैं, तो उनके सामने एक नया शब्द आता है Demat Account. डीमैट से आपके सारे दस्तावेज सुरक्षित रहते हैं, आप ट्रेडिंग से जुड़े धोखाधड़ी के नुकसान से भी राहत मिलती है इससे आप आसानी से लोन भी ले सकते हैं और ऑनलाइन ट्रेडिंग से समय की काफी बचत होती है। आप आसानी से शेयर्स को ट्रैक कर सकते हैं। यदि आप भी शेयर बाजार की यात्रा शुरू करना चाहते हैं, तो आज ही अपना डीमैट खाता खोलें।

डीमैट खाता का अर्थ क्या है या यह आपकी सहायता कैसे कर सकता है। इस बारे में तो इस पोस्ट में चर्चा आगे करेंगे, उससे पहले कुछ महत्वपूर्ण बाते आपको जान लेनी चाहिए ।

डीमैट अकाउंट क्या है ?

शेयर खरीदने, बेचने और शेयर की जानकारी रखने के लिए जिस प्लेटफार्म की आवश्यकता होती है उसे डीमैट अकाउंट ( Demat Account ) कहते हैं।

डीमैट अकाउंट यानि डीमटेरियलाइज्ड अकाउंट एक प्रकार का अकाउंट है जो किसी निवेशक के पास शेयर और सिक्योरिटीज़ की संख्या रिकॉर्ड करता है। सिक्योरिटीज़ एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (सेबी) द्वारा यह अनिवार्य है कि शेयर ट्रांज़ैक्शन ( शेयर की खरीद – बिक्री ) से पहले आपके पास एक डीमैट अकाउंट हो। डीमैट अकाउंट में कुछ डीमैट अकाउंट कैसे खोलें पूरी जानकारी न्यूनतम शुल्क जैसे डीमैट ओपनिंग फीस, वार्षिक मेंटेनेंस शुल्क (एएमसी), कस्टोडियन फीस और ट्रांज़ैक्शन शुल्क शामिल हैं।

अकाउंट धारक डिपॉजिटरी प्रतिभागी के मध्यस्थता के साथ डीमैट अकाउंट का संचालन करता है। डिपॉजिटरी के कामकाज, रेगुलेशन और निरीक्षण को भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) द्वारा नियंत्रित किया जाता है।

Open mStock Zero Brokerage Demat Account – कैसे खोलें mstock का डीमैट खाता?

Open mStock Zero Brokerage Demat Account - कैसे खोलें mstock का डीमैट खाता

mStock Zero Brokerage Demat Account

दोस्तों आज हम आपको एक ऐसे डीमेट अकाउंट के बारे में बताने जा रहे हैं।जो आपसे किसी भी प्रकार का कोई भी ब्रोकरेज नहीं ले रहा है। जी हाँ आपने बिल्कुल सही पढ़ा है “Zero Brokerage Demat Account”

आपको बताते हुए हमें बेहद खुशी हो रही है। Mirae Asset लेकर आया है “mstock Zero Brokerage Demat Account” इस डीमैट अकाउंट में इक्विटी डिलीवरी, इंट्राडे, फ्यूचर एंड ऑप्शंस ट्रेड्स, म्यूच्यूअल फंड्स, आईपीओ, करेंसी ट्रेड्स और इमार्जिन किसी भी प्रकार के ट्रेड पर कोई ब्रोकरेज चार्ज नहीं लिया जाता है।

mStock Lifetime Free Demat Account

यदि आप m.stock में Zero Brokerage Demat Account खोलना चाहते हैं, तो आपको लाइफ टाइम के लिए एक बार ₹999 का शुल्क अदा करना होगा उसके बाद कभी भी m.stock द्वारा किसी भी प्रकार का कोई भी वार्षिक चार्जेज, त्रैमासिक चार्जेज नहीं लिया जाएगा। ना ही आपको किसी भी प्रकार के ट्रेड पर कोई भी ब्रोकरेज चार्जेज देने होंगे।

mStock Refer Earn Money

m.stock में डीमैट अकाउंट खोलने के बाद यदि आप अपने ₹999 वापस चाहते हैं। तो आपको अपने 3 दोस्तों को m.stock में डीमैट अकाउंट ओपन करवाना होगा। पहला अकाउंट ओपन करवाने पर आपको ₹333 का कैशबैक सीधा आपके बैंक अकाउंट में क्रेडिट कर दिया जाएगा। ठीक उसी प्रकार आपको आगे अपने दो दोस्तों के अकाउंट और खुलवाने हैं। जिससे आपके द्वारा दिया गया ₹999 का शुल्क आपके खाते में आ जाएगा। और आपने अपने जिस दोस्त का अकाउंट ओपन करवाया है। उसे भी ₹149 का कैशबैक उसके बैंक अकाउंट में क्रेडिट कर दिया जाएगा।

डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट

डीमैट अकाउंट क्या होता है?

डीमेट शब्द ‘डीमैटेरियलाइजेशन’ से लिया गया है, जिसका तकनीकी मतलब किसी वस्तु से उसकी फिजिकल फॉर्म को हटाना है। यदि हम शेयर मार्केट की बात करें तो शेयरों का डीमैटेरियलाइजेशन मतलब फिजिकल शेयर पेपर्स को इलेक्ट्रॉनिक फॉर्म में बदलना। इसीलिए डीमेट अकाउंट जो कि वर्चुअल लॉकर है, और बैंक अकाउंट के समान ही कार्य करता है। लेकिन डीमैट अकाउंट आपके फाइनेंशियल सम्पति जैसे बॉन्ड, शेयर्स, सोवेरेइन गोल्ड बॉन्ड आदि को इलेक्ट्रॉनिक फॉर्म में रखता है।

ट्रेडिंग अकाउंट क्या होता है?

डीमैट अकाउंट और ट्रेडिंग अकाउंट समान डीमैट अकाउंट कैसे खोलें पूरी जानकारी नहीं होते हैं डीमैट अकाउंट वह होता है। जो सिक्योरिटीज होल्ड करने के लिए काम आता है। जबकि ट्रेडिंग अकाउंट वह होता है जहां पर शेयर्स की बाइंग और सेलिंग की जाती है।

m.stock का डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट कैसे खोलें?

m.stock में डीमैट अकाउंट खोलने के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें-

1. सबसे पहले अपना मोबाइल नंबर एंटर करें।
2. उसके बाद ऐड्रेस प्रूफ, आईडेंटिटी प्रूफ, पैन नंबर और डेट ऑफ बर्थ को वेरीफाई करें।
3. उसके बाद ₹999 वाला पेमेंट ऑप्शन चुने एवं उसका भुगतान करें।
4. उसके बाद अपने बैंक अकाउंट से संबंधित पूरी जानकारी डालें।
5. उसके बाद डीमेट अकाउंट ओपन करने के फॉर्म को ईसाइन करें।
6. ऊपर दिए गए सभी स्टेप्स पूरा करने के बाद आपका डिमैट अकाउंट 24 घंटे के अंदर खोल दिया जाएगा और आपके खाते के लॉगइन क्रैडेंशियल्स की जानकारी आपके रजिस्टर ईमेल एड्रेस पर दे दी जाएगी।

रेटिंग: 4.65
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 592