मोबाइल कंपनी बार-बार अपडेट क्यों भेजती है? अगर आप नहीं करते अपडेट तो आपको क्या नुकसान होता है?

समय से मोबाइल अपडेट करने से आपको काफी फायदे होते हैं. क्योंकि नई टेक्नोलॉजी आपको फोन चलाने के एक्सपीरिएंस को बेहतर करती है.

मोबाइल कंपनी बार-बार अपडेट क्यों भेजती है? अगर आप नहीं करते अपडेट तो आपको क्या नुकसान होता है?

स्मार्टफोन में अक्सर आपको सॉफ्टवेयर अपडेट से जुड़े मैसेज आते रहते हैं लेकिन उन नोटिफिकेशन की आप अनदेखी कर देते हैं। क्योंकि अपडेट में लंबा समय लगता है और अपडेट करने में काफी सारा डाटा भी लग जाता है। लेकिन सॉफ्टवेयर अपडेट न करना गलती है। क्योंकि अपडेट में कंपनियां कई ऐसी चीजें देती हैं जो आपके लिए फायदेमंद है।

तो चलिए जानते हैं सॉफ्टवेयर अपडेट के फायदे

नए फीचर्स मिलेंगे

पिछले कुछ समय में व्हाट्सएप के कई एपडेट आए हैं और हर बार कंपनी ने कुछ नए फीचर्स दिए हैं। अपडेट में अक्सर ऐसा होता है। एप्लिकेशन और ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ कंपनियां नए फीचर्स देती हैं।

स्पीड बढ़ जाती है

अपडेट में कोशिश की जाती है कि एप्स को पहले से ज्यादा स्मार्ट बनाया जाए, ताकि उनकी स्पीड पहले से बेहतर हो सके। एप में उपलब्ध फीचर्स को तेजी से एक्सेस BSE ऐप के फायदे और नुकसान किया जा सके, टाइपिंग में तेज हो या वीडियो का एप्स है तो तेजी से स्ट्रीम हो सके।

ऑपरेटिंग बेहतर होगी

सॉफ्टवेयर अपडेट के दौरान सिक्योरिटी और नए फीचर के साथ कोशिश यही भी होती है ​कि एप्लिकेशन के उपयोग को और आसान बनाया जाए। बाजार में नई-नई ​टेक्नोलॉजी के फोन आते हैं ऐसे में सॉफ्टवेयर के माध्यम से एप्लिकेशन को हार्डवेयर और ऑपरेटिंग के कंपैटिबल बनाया जाता है।

खामियां दूर होंगी

किसी एप को यूज करते वक्त आपको अक्सर कुछ न कुछ कमियां मिल जाती हैं। ऐसे में कंपनियां अपडेट देकर उन खामियों को दूर करने की कोशिश करती हैं जिससे यूजर को कोई परेशानी न हो सके।

सिक्योरिटी पहले से बहतर होती है

आपके फोन और ईमेल आईडी को हैकर्स से बचाने के लिए कंपनियां सॉफ्टवेयर अपडेट में सबसे ज्यादा ध्यान सिक्योरिटी अपडेट पर देती हैं। सुरक्षा सम्बंधित खामियों को दूर कर एप्लिकेशन और ऑपरेटिंग सिस्टम को और बेहतर बनाया जाता है।

सॉफ्टवेयर अपडेट न करने पर हैकिंग भी हो सकती है

सॉफ्टवेयर अपडेट न करने से आपके फोन की सिक्योरिटी खतरे में पड़ सकती है। यानी आपका फोन हैक हो सकता है। इसलिए सॉफ्टवेयर अपडेट करना BSE ऐप के फायदे और नुकसान बेहद जरूरी है। एंड्रॉइड दुनिया का सबसे बड़ा मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम है। इसलिए सबसे ज्यादा हैकिंग अटैक भी एंड्रॉइड पर ही होते हैं। इसलिए कंपनी बार-बार अपडेट भेजर आपके फोन की सुरक्षा सुनिश्चित करती हैं। कंपनी बेहतर सेक्योरिटी के लिए हर महीने हर महीने सेक्योरिटी पैचेज भी जारी करती है। ताकि आपका फोन सुरक्षित रहे। इसलिए जब भी नया सॉफ्टवेयर अपडेट आए तो जल्दी से जल्दी अपना मोबाइल अपडेट करें।

देश की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली टॉप-10 कंपनी, एक हफ्ते में किसकी कितनी बढ़ी दौलत? TCS को सबसे ज्यादा फायदा

Market Cap: शेयर बाजार में कमाई के मामले में कंपनियों के बीच होड़ रहती है. हर हफ्ते जारी होने वाले आंकड़े बताते हैं कि कौन सी कंपनी सबसे ज्यादा फायदे में रही. वहीं, किसको सबसे ज्यादा नुकसान हुआ.

Market Cap: सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से पांच कंपनियों के बाजार पूंजीकरण (Market Cap) में बीते सप्ताह 85,712.56 करोड़ रुपए की बढ़ोतरी हुई. सबसे ज्यादा फायदा में टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) रही. समीक्षाधीन सप्ताह में TCS का बाजार पूंजीकरण (TCS Market Cap) 36,694.59 करोड़ रुपए बढ़कर 14,03,716.02 करोड़ रुपए पर पहुंच गया. रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार मूल्यांकन 32,014.47 करोड़ रुपए के उछाल के साथ 16,39,872.16 करोड़ रुपए रहा.

और किस कंपनी की बढ़ी कमाई

हिंदुस्तान यूनिलीवर की बाजार हैसियत 12,781.78 करोड़ रुपए बढ़कर 5,43,225.5 करोड़ रुपए पर पहुंच गई. इसके अलावा HDFC ने सप्ताह के दौरान 2,703.68 करोड़ रुपए जोड़े और उसका बाजार पूंजीकरण 4,42,162.93 करोड़ रुपए पर पहुंच गया. बजाज फाइनेंस का बाजार मूल्यांकन 1,518.04 करोड़ रुपए के उछाल के साथ 4,24,456.6 करोड़ रुपए रहा.

Zee Business Hindi Live TV यहां देखें

इन कंपनियों को हुआ नुकसान

वहीं, दूसरी तरफ समीक्षाधीन सप्ताह में HDFC बैंक की बाजार हैसियत 3,399.6 करोड़ रुपए घटकर 8,38,529.6 करोड़ रुपए पर और इन्फोसिस की 5,845.84 करोड़ रुपए के नुकसान से 7,17,944.43 करोड़ रुपए पर आ गई. ICICI बैंक का बाजार मूल्यांकन (Market Cap) 28,779.7 करोड़ रुपए टूटकर 5,20,654.76 करोड़ रुपए पर और भारतीय स्टेट बैंक (SBI) का 12,360.59 करोड़़ रुपए के नुकसान से 4,60,019.1 करोड़ रुपए पर आ गया. भारती एयरटेल के बाजार मूल्यांकन में 961.11 करोड़ रुपए की गिरावट आई और यह 3,91,416.78 करोड़ रुपए रहा.

ये हैं कमाई वाली देश की टॉप 10 कंपनियां

शीर्ष 10 कंपनियों की सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) पहले स्थान पर कायम रही. उसके बाद क्रमश: TCS, HDFC बैंक, इन्फोसिस, हिंदुस्तान यूनिलीवर, ICICI बैंक, SBI, HDFC, बजाज फाइनेंस और भारती एयरटेल का स्थान रहा.

Reliance, TCS और इंफोसिस ने निवेशकों को कराया नुकसान, अडाणी के शेयर निवेशकों की बल्ले-बल्ले

Reliance इंडस्ट्रीज के बाजार पूंजीकरण में 60,176.75 करोड़ रुपये की गिरावट हुई और यह 17,11,468.58 करोड़ रुपये रहा।

Reliance, TCS और इंफोसिस ने निवेशकों को कराया नुकसान, अडाणी के शेयर निवेशकों की बल्ले-बल्ले - India TV Hindi

Reliance, TCS और इंफोसिस ने निवेशकों को पिछले हफ्ते नुकसान कराया। वहीं, अडाणी ग्रुप की कंपनी में निवेश करने वाले निवेशक लाभ में रहें। दरअसल, घरेलू शेयर बाजारों में 10 सबसे मूल्यवान कंपनियों में तीन का बाजार पूंजीकरण पिछले सप्ताह 1,22,852.25 करोड़ रुपये घट गया। इनमें रिलायंस इंडस्ट्रीज को सबसे अधिक नुकसान हुआ। इसके अलावा आईटी कंपनियों- टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) और इंफोसिस के बाजार पूंजीकरण में कमी हुई। दूसरी ओर समीक्षाधीन सप्ताह में एचडीएफसी बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, आईसीआईसीआई बैंक, भारतीय स्टेट बैंक, एचडीएफसी, बजाज फाइनेंस और अडाणी ट्रांसमिशन लाभ में रहे और उनका कुल बाजार पूंजीकरण 62,221.63 करोड़ रुपये था।

रिलायंस के पूंजीकरण में 60,176.75 करोड़ की गिरावट

बीते सप्ताह बीएसई सेंसेक्स 30.54 अंक या 0.05 फीसदी लुढ़क गया। इस दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज BSE ऐप के फायदे और नुकसान के बाजार पूंजीकरण में 60,176.75 करोड़ रुपये की गिरावट हुई और यह 17,11,468.58 करोड़ रुपये रहा। टीसीएस का BSE ऐप के फायदे और नुकसान बाजार पूंजीकरण 33,663.28 करोड़ रुपये घटकर 11,45,155.01 करोड़ रुपये और इंफोसिस का बाजार पूंजीकरण 29,012.22 करोड़ रुपये घटकर 6,11,339.35 करोड़ रुपये रह गया। इनके विपरीत एचडीएफसी बैंक का बाजार पूंजीकरण 12,653.69 करोड़ रुपये बढ़कर 8,26,605.74 करोड़ रुपये हो गया।

अडाणी शीर्ष 10 कंपनियों की सूची में प्रवेश किया

अडाणी ट्रांसमिशन ने मंगलवार (30 अगस्त) को शीर्ष 10 कंपनियों की सूची में प्रवेश किया। समीक्षाधीन सप्ताह में कंपनी का बाजार पूंजीकरण 12,494.32 करोड़ रुपये बढ़कर 4,30,842.32 करोड़ रुपये हो गया। भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) का बाजार पूंजीकरण 11,289.64 करोड़ रुपये बढ़कर 4,78,760.80 करोड़ रुपये और एचडीएफसी का बाजार पूंजीकरण 9,408.48 करोड़ रुपये बढ़कर 4,44,052.84 करोड़ रुपये हो गया। BSE ऐप के फायदे और नुकसान अवकाश के कारण कम कारोबारी सत्रों वाले पिछले सप्ताह में सेंसेक्स 30.54 अंक यानी 0.05 प्रतिशत जबकि निफ्टी 19.45 अंक यानी 0.11 प्रतिशत के नुकसान में रहा। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज लि.के खुदरा शोध प्रमुख सिद्धार्थ खेमका ने कहा, ‘‘कई वैश्विक चुनौतियों के बावजूद भारतीय बाजार में मजबूती दिख रही है। बाजार में निकट भविष्य में उतार-चढ़ाव रह सकता है। लेकिन मजबूत घरेलू वृहत आर्थिक आंकड़ों, और कंपनियों का वित्तीय परिणाम बेहतर रहने की उम्मीद तथा त्योहारों को देखते हुए मध्यम से दीर्घकाल में हमारा BSE ऐप के फायदे और नुकसान रुख सकारात्मक है।’’ एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, जापान का निक्की और हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में रहे जबकि चीन के शंघाई कंपोजिट में लाभ रहा। यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में तेजी का रुख था। अमेरिकी बाजार बृहस्पतिवार को बढ़त में बंद हुए।

Instant Loan App: SBI ने अपने कस्टमर्स को किया आगाह! इंस्टेंट लोन ऐप्स को कारण हो सकता हैं बड़ा नुकसान

SBI Alert: किसी भी अनजान लिंक द्वारा ऑफर किए जाने वाले लोन को स्वीकार न करें. कई बार यह इंस्टेंट लोन ऐप लोगों को फटाफट लोन देने का लालच देकर साइबर अपराध का शिकार बना लेते हैं.

Instant Loan App: SBI ने अपने कस्टमर्स को किया आगाह! इंस्टेंट लोन ऐप्स को कारण हो सकता हैं बड़ा नुकसान

Instant Loan App Fraud: आजकल के समय में डिजिटलाइजेशन ने बैंकिंग इंडस्ट्री ने कई बड़े बदलाव किए हैं. नेट बैंकिंग और मोबाइल ऐप्स के जरिए बैंकिंग सुविधाओं का लाभ लेना बहुत आसान हो गया है, लेकिन बढ़ते डिजिटलाइजेशन के साथ-साथ साइबर अपराध के मामलों में भी तेजी से बढ़त देखी जा रही हैं. आजकल कई इंस्टेंट लोन ऐप्स आ गए हैं जिसके जरिए लोगों को कुछ ही मिनटों में लोन देने का दावा किया जा रहा है. (PC: Freepik)

Instant Loan App: SBI ने अपने कस्टमर्स को किया आगाह! इंस्टेंट लोन ऐप्स को कारण हो सकता हैं बड़ा नुकसान

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने लोगों को इन इंस्टेंट लोन ऐप्स से सावधान रहने की सलाह दी है. बैंक ने इन लोन ऐप्स के जरिए होने वाले फ्रॉड से सतर्क रहने को भी कहा है. हम आपको इन ऐप्स से होने वाले फ्रॉड से सुरक्षित रहने के तरीके के बारे में बताते हैं.(PC: Freepik)

Instant Loan App: SBI ने अपने कस्टमर्स को किया आगाह! इंस्टेंट लोन ऐप्स को कारण हो सकता हैं बड़ा नुकसान

किसी भी इंस्टेंट लोन BSE ऐप के फायदे और नुकसान ऐप को डाउनलोड करने से पहले यह जरूर चेक करें कि यह ऐप सही है या नहीं. आजकल मार्केट में कई फर्जी ऐप भी आ गए हैं. ऐसे में सबसे पहले उस ऐप की Authenticity को चेक करें और उसके बाद ही उसे मोबाइल में डाउनलोड करें. (PC: Freepik)

Instant Loan App: SBI ने अपने कस्टमर्स को किया आगाह! इंस्टेंट लोन ऐप्स को कारण हो सकता हैं बड़ा नुकसान

किसी भी अनजान लिंक द्वारा ऑफर किए जाने वाले लोन को स्वीकार न करें. कई बार यह इंस्टेंट लोन ऐप लोगों को फटाफट लोन देने का लालच देकर साइबर अपराध का शिकार बना लेते हैं. ऐसे में किसी भी लिंक पर क्लिक करने से पहले लिंक की प्रमाणिकता की जांच करें. (PC: Freepik)

Instant Loan App: SBI ने अपने कस्टमर्स को किया आगाह! इंस्टेंट लोन ऐप्स को कारण हो सकता हैं बड़ा नुकसान

इसके साथ ही मोबाइल में ऐप डाउनलोड करने के बाद अपने परमिशन सेटिंग को ठीक तरह से चेक करें. इससे आपकी निजी जानकारी सुरक्षित रहेगी. (PC: Freepik)

Instant Loan App: SBI ने अपने कस्टमर्स को किया आगाह! इंस्टेंट लोन ऐप्स को कारण हो सकता हैं बड़ा नुकसान

अगर आपने किसी Instant Loan App से लोन लेने के बाद धोखाधड़ी के शिकार हो गए हैं तो इसकी शिकायत तुरंत पुलिस से करें. बिना वजह 200% तक ब्याज BSE ऐप के फायदे और नुकसान दर इन ऐप्स को न चुकाए. (PC: Freepik)

Tags: sbi state bank of india sbi alert Instant Loan App हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें abp News पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट एबीपी न्यूज़ पर पढ़ें बॉलीवुड, खेल जगत, कोरोना Vaccine से जुड़ी ख़बरें। For more related stories, follow: Business News in Hindi

रिलेटेड फ़ोटो

Kanyashree Project Scheme: बेटियों को पढ़ाई के लिए सरकार देती है 25 हजार रुपये, जानिए इस योजना के बारे में सब कुछ

LIC Service: घर बैठे एलआईसी प्रीमियम की प्राप्त करना चाहते हैं जानकारी तो Whatsapp में करें रजिस्टर, जानें इसका तरीका

Indian Railway: यात्रीगण कृपया ध्यान दें! भूलकर भी ट्रेन से ट्रैवल करते वक्त न करें ये गलतियां, खानी पड़ सकती है जेल की हवा

LIC Dhan Varsha Plan: केवल एक बार भरिए प्रीमियम मिलेगा 10 गुना तक का तगड़ा रिटर्न, जानें योजना की डिटेल्स

IRCTC Tour Package: अंडमान की सैर करने की कर रहे हैं प्लानिंग तो इस टूर पैकेज में करें बुकिंग! रहने-खाने के साथ मिलेगी यह फैसिलिटी

फायदा ही नहीं नुकसान भी पहुंचा सकते हैं मल्टीविटामिन्स, खाने से पहले जरूर ध्यान रखें ये बातें

Side Effects Of Taking Excess Multivitamins On Health: शरीर में थकावट महसूस हो या फिर पोषण की कमी, दोनों ही समस्याओं से निजात पाने के लिए मल्‍टीविटामिन्स का नाम दिमाग में सबसे पहले आता है।.

फायदा ही नहीं नुकसान भी पहुंचा सकते हैं मल्टीविटामिन्स, खाने से पहले जरूर ध्यान रखें ये बातें

Side Effects Of Taking Excess Multivitamins On Health: शरीर में थकावट महसूस हो या फिर पोषण की कमी, दोनों ही समस्याओं से निजात पाने के लिए मल्‍टीविटामिन्स का नाम दिमाग में सबसे पहले आता है। पिछले कुछ सालों से मल्‍टीविटामिन्स का उपयोग लोगों के बीच काफी ज्यादा बढ़ गया है।लोगों का मानना है कि मल्‍टीविटामिन्स की गोलियां खाने से शरीर में पोषक तत्‍वों की कमी पूरी होने के साथ थकान भी दूर होती है। कहते हैं या ना कि अति हर चीज की बुरी होती है। क्या आप जानते हैं जरूरत से ज्यादा मल्‍टीविटामिन्स का सेवन करने से आपको फायदे की BSE ऐप के फायदे और नुकसान जगह नुकसान भी पहुंचा सकता है। जी हां, आइए जानते हैं आखिर कैसे।

जरूरत से ज्यादा मल्‍टीविटामिन खाने के नुकसान-
अमेरिका की हार्वर्ड यूनिवर्सिटी की रिपोर्ट के अनुसार अनायास मल्टीविटामिन का सेवन करने से व्यक्ति को फायदे की जगह नुकसान भी हो सकता है। बिना किसी डॉक्टरी परामर्श के मल्टीविटामिन का सेवन हाइपरविटामिनोसिस यानी शरीर में विटामिन की अधिकता से होने वाला रोग, पेट से संबंधित समस्याएं, डायरिया जैसी दिक्कतें बढ़ा सकता है।

न्यूट्रिशनिस्ट और वैलनेस एक्सपर्ट वरुण कत्याल ( Varun Katyal, Nutritionist And Wellness Expert) के अनुसार विटामिन ए एक शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट है जो आंखों की सेहत और तंत्रिका संबंधी कार्य को बनाए रखने में मदद करता है। नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट, यूएसए के एक अध्ययन के अनुसार इस विटामिन की अधिकता धूम्रपान करने वालों में फेफड़ों के कैंसर के होने की संभावना को बढ़ा सकती है। इतना ही नहीं, इस विटामिन के अधिक सेवन करने से लीवर भी खराब हो सकता है।

-शरीर में विटामिन सी या जिंक की अधिकता होने से व्यक्ति को डायरिया, क्रैंप, गैस्ट्रिक, थकान और घबराहट जैसी समस्‍याएं हो सकती हैं।

-वहीं कई ऐसे विटामिन हैं जो शरीर में जाकर जमा BSE ऐप के फायदे और नुकसान हो जाते हैं। विटामिन 'ए' की अधिकता लीवर को नुकसान पहुंचाती है जबकि विटामिन 'डी' की अधिकता से हार्मोनल गड़बड़ी हो जाती है।

-त्‍वचा की खूबसूरती को बढ़ाने के लिए विटामिन ई खाया जाता है। मगर शरीर में इसकी जरूरत से ज्‍यादा मात्रा आंतरिक ब्लीडिंग का कारण बन सकती है।

-वहीं जिंक का ज्‍यादा सेवन करने से ब्‍लड प्रेशर बढ जाता है।

क्या है विकल्प-
एक सीमित मात्रा में मल्टीविटामिन गोलियों को खाने से शरीर को कोई नुकसान नहीं होता है। हालांकि व्यक्ति को इन गोलियों पर अपनी निर्भरता नहीं रखनी चाहिए। शरीर में इन पोषक तत्वों की कमी को पूरा करने के लिए अच्छी हेल्दी डाइट लें। विटामिन की कमी को पूरा करने के लिए एक दिन में चार अलग-अलग रंग के फल खाएं। दूध व डेयरी प्रोडक्ट्स भरपूर मात्रा में लें। नट्स का सेवन नियमित रूप से करें।

रेटिंग: 4.87
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 412