9. खून के थक्के
जब एक बड़ी नस में खून के थक्का लाइव चार्ट पर संकेतक बन जाते हैं, तो यह कभी-कभी पैंक्रियाज के कैंसर का पहला संकेत हो सकता है. यह आमतौर पर लाली, सूजन और पैर में दर्द के रूप में प्रकट होता है, जिसमें खून का थक्का होता है. खून के थक्के का एक टुकड़ा आपके फेफड़ों में भी जा सकता है, जिससे सांस लेना मुश्किल हो जाता है.

 भूरा पीरियड ब्लड:अगर आपके पीरियड्स की शुरुआत में ब्लड का रंग हल्का लाल हो जाता है और जैसे ही ब्लीडिंग खत्म होती है, रंग भूरा या काला दिखने लगता है तो यह ऑक्सीजन की कमी के कारण होता है. वहीं अगर खून पतला और वेजाइनल डिसचार्ज के साथ है, तो ऐसा तब हो सकता है, जब कि आप गर्भवती हों. गर्भावस्था के दौरान सामान्य धब्बे पानी के खून की तरह दिख सकते हैं. (credit: shutterstock/July Prokopiv)

पीरियड ब्लड का कलर बताता है आपकी सेहत का हाल, चार्ट से जानें

  • News18Hindi Last Updated : May 17, 2021, 16:लाइव चार्ट पर संकेतक 39 IST

 Know What Does Each Period Blood Color Mean: पीरियड्स हर महिला की बायोलॉजिकल क्लॉक का महत्वपूर्ण हिस्सा होते हैं. कुछ महिलाओं में यह काफी कम उम्र जैसे 12 से 13 साल में ही शुरू हो जाते हैं और कुछ में थोड़ी उम्र बाद से. हर महिला को महीने में 21 से 35 दिनों के बीच में और किसी किसी में पीरियड्स साइकिल गड़बड़ होने के कारण अलग-अलग हिसाब से पीरियड्स होते हैं. अक्‍सर पीरियड्स साइकिल में कई ऐसे बदलाव आते हैं, जिन्‍हें देखकर महिलाएं नजरअंदाज कर देती हैं. इन बदलावों में, पीरियड्स में ब्लड कलर का अलग होना, ब्‍लड फ्लो का ज्‍यादा होना, ऐंठन या दर्द और कई अजीब तरह के बदलाव, जो शायद पहले कभी न हुए हों शामिल हैं. यह सभी बदलाव इस बात का संकेत देते हैं कि आपके पीरियड्स साइकिल में कुछ प्रॉब्‍लम हो रही है. हेल्थ वेबसाइट मेडिकल न्यूज़ टुडे पर प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, आइए जानते हैं पीरियड ब्लड कलर के हिसाब से आपकी सेहत का हाल. (credit: shutterstock/July Prokopiv)

Pancreatic cancer के 10 चेतावनी संकेत जान लें आप, गलती से भी ना करें इन्हें इग्नोर

Pancreatic cancer: पैंक्रियाज कैंसर के शायद ही कभी शुरुआती लक्षण मिलते होंगे या दिखाई देते होंगे. इसलिए इस कैंसर का पता जल्दी नहीं चल पाता है.

alt

5

alt

11

alt

तीन महीने की सबसे बड़ी गिरावट, सेंसेक्स 981 अंक टूटा, निफ्टी 17850 के नीचे…

हफ्ते के अंतिम कारोबारी दिन घरेलू शेयर बाजार में बड़ी गिरावट देखने को मिली। लगातार चौथे कारोबारी दिन शुक्रवार के बाजार बंद होते समय सेंसेक्स 980.93 अंकों की गिरावट के साथ 59,845.29 अंकों पर बंद हुआ। वहीं दूसरी ओर, निफ्टी 320.55 अंकों की गिरावट के साथ 17,806.80 अंकों के लेवल पर बंद हुआ। घरेलू शेयर बाजार में यह पिछले तीन महीने की सबसे बड़ी गिरावट है। बैंक निफ्टी 740 अंकों की गिरावट के साथ 41668 के स्तर पर बंद हुआ। मिडकैप लाइव चार्ट पर संकेतक इंडेक्स में तो 3.76 फीसदी यानी 1179 अंकों की गिरावट आई और यह 30157 पर बंद हुआ।

बीते चार कारोबारी दिनों में घरेलू शेयर बाजार में निवेशकों को करीब 20 लाइव चार्ट पर संकेतक लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। पिछले तीन महीनों की बढ़त बाजार ने पिछले चार दिनों में ही गंवा दी है। शुक्रवार के कारोबारी सेशन में टाटा स्टील, टाटा मोटर्स, स्टेट बैंक, बजाज फाइनेंशियल सर्विसेज और विप्रो जैसी कंपनियों के शेयरों में गिरावट दिखी। कोटक सिक्योरिटीज के अमोल अठावले के अनुसार कमजोर वैश्विक संकेतों और मंदी के बाहरी कारकों ने दोनों प्रमुख बेंचमार्क सूचकांकों को मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे धकेल दिया।

रेटिंग: 4.89
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 415